ताज़ा खबर
 

ओड़ीशा: आदिवासी लड़कियों की तस्करी के मामले में पांच गिरफ्तार

लड़कियों को शुक्रवार (22 अप्रैल) को मानव तस्करी से उस समय बचाया गया, जब वे बेलघारा बस स्टैंड पर एक बस की प्रतीक्षा कर रही थीं।

Author बहरमपुर (ओड़ीशा) | April 24, 2016 2:44 AM
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

दो नाबालिग सहित चार आदिवासी लड़कियों को ओड़ीशा के कंधमाल जिले से तमिलनाडु कथित तौर पर तस्करी करने के मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उप संभागीय पुलिस अधिकारी (बलीगुडा) एसएन मुर्मू ने बताया कि लड़कियों को शुक्रवार (22 अप्रैल) को मानव तस्करी से उस समय बचाया गया, जब वे बेलघारा बस स्टैंड पर एक बस की प्रतीक्षा कर रही थीं। लड़कियां बेलघारा की रहने वाली थीं और उन्हें घर भेज दिया गया।

एसडीपीओ ने बताया कि बेलागढ़ के एक व्यक्ति बाबूला पात्रा की खुफिया सूचना के आधार पर कालाहांडी जिले के रहने वाले राजन बाग, केसब साहू, भुजराज माझी, सुदाम नाग और मिनाकेतन बेरुक को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि वे तत्काल घटनास्थल पर पहुंच गए। सूत्रों ने बताया कि मानव तस्करों ने कथित तौर पर लड़कियों को एक कताई मिल में काम दिलाने का प्रलोभन दिया था। उनके तमिलनाडु में रहने के दौरान अच्छा पारिश्रमिक और रहने की व्यवस्था का भरोसा दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App