ताज़ा खबर
 
  • राजस्थान

    Cong+ 95
    BJP+ 80
    RLM+ 0
    OTH+ 24
  • मध्य प्रदेश

    BJP+ 111
    Cong+ 110
    BSP+ 4
    OTH+ 5
  • छत्तीसगढ़

    Cong+ 59
    BJP+ 22
    JCC+ 9
    OTH+ 0
  • तेलांगना

    TRS-AIMIM+ 93
    TDP-Cong+ 19
    BJP+ 1
    OTH+ 6
  • मिजोरम

    MNF+ 25
    Cong+ 10
    BJP+ 1
    OTH+ 4

* Total Tally Reflects Leads + Wins

आज सड़क पर सरकार को मिलेंगे कितने नंबर!, सम-विषम योजना आज से

दिल्ली सरकार ने गुरुवार को दावा किया कि राजधानी में सम-विषम फार्मूले को लागू करने की उसने पूरी तैयारी कर ली है। दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय ने सम-विषम फार्मूले को लागू करने के लिए सरकार की ओर से की जा रही तैयारियों का जायजा लिया..

Author नई दिल्ली | January 1, 2016 2:11 AM
दिल्ली ट्रैफिक। (Express Photo by Prem Nath Pandey 10.08.2015)

दिल्ली सरकार ने गुरुवार को दावा किया कि राजधानी में सम-विषम फार्मूले को लागू करने की उसने पूरी तैयारी कर ली है। दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय ने सम-विषम फार्मूले को लागू करने के लिए सरकार की ओर से की जा रही तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने मीडिया से दावा किया कि इस फार्मूले को लागू करने के लिए सरकार ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं।

दिल्ली सरकार के मंत्री भी इस फार्मूले को अपने ऊपर अमल करेंगे। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सम नंबर की गाड़ी से सुबह दस बजे दिल्ली सचिवालय पहुंचेंगे। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी सम नंबर की गाड़ी से सुबह साढ़े नौ बजे दिल्ली सचिवालय पहुंचेंगे। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन शुक्रवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री के वाहन से सचिवालय पहुंचेंगे। परिवहन मंत्री गोपाल राय की विषम नंबर की गाड़ी है। वे भी दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के वाहन में दिल्ली सचिवालय पहुंचेंगे। संस्कृति मंत्री कपिल मिश्र अपनी बाइक से यमुना विहार से सचिवालय पहुंचेंगे। पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन आॅटो से बल्लीमारान से सचिवालय पहुंचेंगे। मंत्री संदीप कुमार बस से दिल्ली सचिवालय पहुंचेंगे।

मंत्री गोपाल राय ने बताया कि मेट्रो के 365 फेरे बढ़ाए जा रहे हैं, जिससे कि अपना वाहन छोड़ने वालों को किसी तरह की दिक्कत का सामना न करना पड़े। उन्होंने बताया कि 3000 बसों का पर्यावरण बस सेवा के रूप में रजिस्ट्रेशन हो चुका है। इसमें स्कूल वाली बसों में 50 फीसद सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित होंगी और उसमें मार्शल नियुक्त होंगे। 1000 डीटीसी की बसें जो पार्ट टाइम स्कूल में लगी थीं वे अब पूरे समय दिल्ली की सड़कों पर दौड़ेंगी।

मंत्री सिसोदिया ने बताया कि ऑटो टैक्सी की सुविधा के लिए लोगों ने ‘पूछो’ ऐप का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। सरकारी दफ्तरों, बिजनेस हाउसेज, आरडब्लूए के लोगों में कार पूलिंग को बढ़ावा मिल रहा है। नोएडा सेक्टर 62 से सेक्टर 18-ए अट्टा मार्केट, आश्रम, एम्स, धौलाकुआं होते हुए साइबर सिटी गुड़गांव के लिए 120 स्पेशल बसें चलाई जा रही हैं। ट्विटर के जरिए मेट्रो और बस की जानकारी हैस टैग पॉल्यूशन फ्री दिल्ली पर ट्वीट कर पा सकते हैं।

उन्होंने बताया कि गुड़गांव के लिए रोहिणी सेक्टर-1, नंदनगरी, शाहदरा, नेहरु प्लेस से स्पेशल बसें चलेंगी। इसी तरह से नोएडा के लिए रोहिणी सेक्टर 16, उत्तम नगर, द्वारका, पंजाबी बाग से स्पेशल बस सर्विस चलेगी। द्वारका सेक्टर 21 से गुड़गांव के लिए शटल बस सेवा चलेगी। ट्रांसपोर्ट मानिटरिंग सिस्टम के तहत डीटीसी की 45, मेट्रो की 29, डिम्ट्स की 15 टीमें लगेंगी। सिविल डिफेंस की 200, यातायात पुलिस की 200, ट्रांसपोर्ट की 66 और एसडीएम की 40 टीमें तैनात रहेंगी। पर्यावरण की मानिटरिंग 6 पुराने सेंटर 20 मैनुअल मशीन के जरिए अलग-अलग जगहों पर करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App