ताज़ा खबर
 

न भाग रहा हूं, न डरा हुआ हूं…वापस जाऊंगा यूपी- बोले कफील खान

डॉक्टर खान कहते हैं, 'मैं उत्तर प्रदेश से भाग नहीं रहा हूं। मैं डरा नहीं हूं। मैं वापस यूपी लौटूंगा। गोरखपुर में मेरा जन्मस्थान है और मैं इसे नहीं छोड़ने जा रहा।'

BRD national news india newsडॉक्टर कफील खान। (Express photo by Gajendra Yadav)

महीनों तक जेल में रहे डॉक्टर कफील खान ने अपनी पीड़ा जाहिर की है। उन्होंने कहा कि वो जेल में रहे, पिटाई हुई, भूखा रखा और नौकरी चली गई, मगर उन्हें योगी आदित्य नाथ के नेतृत्व वाली यूपी सरकार ने जो सबसे ज्यादा दर्द दिया है वो उन्हें अपने बच्चों को बड़े होता देखने से वंचित कर दिया। खान ने दिल्ली में इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर में स्थित कॉफी शॉप में ये बात कही। यहां उनके सबसे छोटे भाई ने गुरुवार को शादी कर ली। उसी दिन सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार की उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले को चुनौती दी गई थी। हाई कोर्ट ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत डॉक्टर खान के खिलाफ आरोपों को खारिज कर दिया था।

कोर्ट के फैसले पर कफील कहते हैं, ‘उस दिन मैंने अपने भाई के विवाह के लिए खरीदी हुई शेरवानी पहनी थी। कोर्ट का फैसला आने पर मैं बहुत अभिभूत था।’ बता दें कि 2017 के सितंबर महीने में कथित तौर ऑक्सीजन कमी के चलते गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 63 बच्चों की मौत हो गई। खान तब उस वॉर्ड के इंचार्ज थे और मामला सामने आने पर उन्हें सस्पेंड कर दिया गया। बाद में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

इसके बाद साल 2018 में एक जिला अस्पतला में ‘उपद्रव मचाने’ के आरोप में बहराइच पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद इस साल जनवरी में उन्हें अलीगढ़ में सीएए विरोधी भाषण देने पर गिरफ्तार कर लिया गया और कुछ दिनों के भीतर ही उनपर एनएसए लगा दिया गया। उन्हें इस साल सितंबर में कोर्ट ने रिहा करने के आदेश दिए जिसके बाद वो अपने परिवार के साथ जयपुर शिफ्ट हो गए।

कफील खान कहते हैं कि इन सबके बावजूद मेरी मां बहुत मजबूत हैं मगर मुझे लगता है कि उन्हें मानसिक पीड़ा मिली जब मैं जेल बाहर आया। उन्होंने मुझसे कहा कि ‘अब बस करो।’ इसलिए मैंने अपने परिवार के साथ समय बिताने का फैसला लिया और मैं जयपुर चला गया। डॉक्टर खान कहते हैं, ‘मैं उत्तर प्रदेश से भाग नहीं रहा हूं। मैं डरा नहीं हूं। मैं वापस यूपी लौटूंगा। गोरखपुर में मेरा जन्मस्थान है और मैं इसे नहीं छोड़ने जा रहा।’

बता दें कि दो बच्चों के पिता डॉक्टर खान की पत्नी भी एक डॉक्टर हैं। उनके दो भाई हैं। इनमें एक डॉक्टर भी हैं। उनकी बहन मस्कट में हैं जो पीएचडी होल्डर हैं। खान के पिता भी एक इंजीनियर थे जिनकी साल 2003 में मौत हो गई थी।

Next Stories
1 ससुराल में घुड़सवारी का लुत्फ ले रहीं लालू की छोटी बेटी राजलक्ष्मी, शेयर कीं तस्वीरें
2 56 का सीना क्यों ना देखे पसीना…किसान आंदोलन को लेकर कवि ने BJP नेता से पूछा सवाल, जफर इस्लाम का जवाब- पीड़ा इसलिए है, क्योंकि कुछ को राजनीतिक कीड़ा है
3 मिशन बंगाल के दौरान जब बिगड़ गया था अमित शाह का मूड, हल्ला कर रहे लोगों को समझाया- ओ भाई, शांत रहो…अरे यार
यह पढ़ा क्या?
X