ताज़ा खबर
 

पासबुक, गहने, नकदी लेकर मां को अस्पताल में छोड़ गया बेटा, रक्षा मंत्रालय में अंडर सेक्रेटरी थे पति

नोएडा में रक्षा मंत्रालय के पूर्व अंडर सेक्रेटरी की पत्नी को उनका बेटा अस्पताल में छोड़ गया और लेने नहीं आया।

Author January 16, 2019 3:25 PM
प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

नोएडा में रक्षा मंत्रालय के पूर्व अंडर सेक्रेटरी की पत्नी को उनका बेटा अस्पताल में छोड़ गया और लेने नहीं आया। जब 6 दिन तक अस्पताल में बुजुर्ग महिला को कोई लेने नहीं आया तो अस्पताल ने अपने स्तर पर खोजबीन करना शुरू किया। जिसके बाद अस्पताल ने बुजुर्ग महिला की बेटी को कॉल किया और बेटी मां को अस्पताल से लेकर गई। वहीं बेटी ने कहा कि सबकुछ प्लान्ड था।

कौन है महिला: दरअसल 87 साल की बुजुर्ग महिला का नाम उर्मिला गर्ग है। जो रक्षा मंत्रालय के पूर्व अंडर सेक्रेटरी सत्य प्रकाश की पत्नी हैं। बता दें कि बुजुर्ग महिला के पति की मौत हो चुकी है। उर्मिला के पति सत्य प्रकाश ने अपनी मौत से पहले अपने मकान को बेटे रमाकांत के नाम कर दिया था। जिसके बाद विधवा बुजुर्ग महिला उर्मिला अपने बेटे के साथ ही रहती थी। हालांकि सत्य प्रकाश की मौत के बाद रमाकांत ने ये मकान बेंच दिया जो कि नोएडा के सेक्टर 27 के ई ब्लॉक में था। उसके बाद रमाकांत ने सेक्टर 78 में निंबस हाइड पार्क में फ्लैट खरीद लिया।

क्या है मामला: बुजुर्ग महिला का कहना है कि नए फ्लैट में शिफ्ट होने के बाद रमाकांत का उनके लिए बर्ताव बदल गया। वो उन्हें भूखा रखने लगे और परेशान करने लगे। वहीं रमाकांत ने जबरन उनसे पेंशन पासबुक, चेक बुक, गहने और करीब 30 हजार रुपए ले लिए थे।

खांसी जुकाम के लिए अस्पताल में करवाया भर्ती: महिला ने बताया कि दिसंबर में उन्हें कैलाश अस्पताल में गंभीर खांसी- जुकाम की वजह से भर्ती करवाया गया। जिसके बाद उनका बेटे उन्हें लेने ही नहीं आया। अस्पताल की कोशिशों को बाद जब रमाकांत अस्पताल आया तो उसने बुजुर्ग महिला को घर ले जाने से इनकार कर दिया। पुलिस के मुताबिक रमाकांत का कहना रहा कि वह खुद सीनियर सिटिजन है, ऐसे में वो मां का खर्च नहीं उठा सकता। वहीं रमाकांत ने मां को बेटी के साथ जाने की भी बात कही क्योंकि उर्मिला अपनी पेंशन बेटी को ही दे देती है।

बेटी से किया संपर्क: अस्पताल के मुताबिक जब रमाकांत ने मां को ले जाने से इनकार कर दिया तो अस्पताल ने उर्मिला की बेटी को कॉल किया। जिसके बाद उनकी बेटी आईं और अस्पताल के सारे बिल चुकाने के बाद उन्हें घर ले गईं।

महिला ने दर्ज करवाई शिकायत: इस पूरे मामले के बाद पीड़ित महिला ने बेटे रमाकांत के खिलाफ सेक्टर 20 में शिकायत दर्ज करवाई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App