ताज़ा खबर
 

‘न कोई मुखिया आया, न कोई अफसर, घर-दुआर सब गिर गया, खेत-बकरी सब बाढ़ लील गया’, दरभंगा के बेघर बाढ़ पीड़ितों की दु:खभरी कहानी

बिहार में बाढ़ के चलते 10 जिलों में कम से कम 15 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। जिसमें दरभंगा जिला सबसे ज्यादा प्रभावित है। केओटी के एक बाढ़ पीड़ित ने बताया कि जल स्तर बढ़ रहा है।

Bihar, Flood, Assam Flood,बिहार में बाढ़ से हालात काफी खराब हैं। (फोटो-PTI)

बिहार में बाढ़ की स्थिति भयावह हो गई है। बाढ़ का पानी लोगों के घरों में घुस चुका है जिसके चलते लोग छतों पर शरण लेने को मजबूर हैं। दरभंगा जिले के कीओटी में हालत बेहद खराब हैं। यहां बाढ़ के चलते लोगों का घर दुआर सब गिर गया है। पूरा इलाका जलमग्न हो जाने से, कटाई के लिए तैयार फसलें पूरी तरह बर्बाद हो गईं हैं।

‘द क्विंट’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक बिहार में बाढ़ के चलते 10 जिलों में कम से कम 15 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। जिसमें दरभंगा जिला सबसे ज्यादा प्रभावित है। केओटी के एक बाढ़ पीड़ित ने बताया कि जल स्तर बढ़ रहा है। प्रशासन से कोई भी उनकी मदद करने के लिए नहीं आया है। पीड़ित ने बताया कि कोई भी यहां की स्थिति और जिस स्थिति में हम रह रहे हैं वह देखने नहीं आया है। यहां कोई सुविधाएं नहीं हैं।

केओटी गाँव में ज़्यादातर किसानों के पास मवेशी हैं। ऐसे में बाढ़ की स्थिति में उन्हें दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। पूरा गाँव जलमग्न हो गया है। गाँव के ज्यादातर घर या तो बह गए हैं या आंशिक रूप से जलमग्न हो गए हैं। लोगों का कहना है कि उन्हें अबतक सरकार से कोई मदद नहीं मिली है। उन्होने किसी तरह बाढ़ से खुद को और अपने पशुओं को बचाया है और ऊंचे स्तनों पर ले गए हैं।

केओटी में रहने वाले सत्येंद्र कुमार मिश्र ने बताया कि कई घर पूरी तरह से बह गए हैं। खेत-बकरी सब बाढ़ लील गया है। जिनके पास मवेशी बचे हैं वे उन्हें ऊंचे स्तनों में ले जा रहे हैं। मवेशियों के लिए भोजन की कमी है लेकिन लोग किसी तरह प्रबंधन कर रहे हैं। किसान बेहद परेशान हैं

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘महबूबा मुफ्ती को जल्द करें रिहा, नेताओं की अवैध बंदी ने लोकतंत्र को किया क्षतिग्रस्त’, राहुल गांधी का केंद्र पर नया हमला
2 ‘मैं कहता रहा गोमांस निकला तो ले लेना मेरी जान, पर वो मारते रहे और लगवाते रहे जय श्रीराम का नारा’, लुकमान खान ने बयां किया दर्द
3 जांच का सामना कर रहे बलदेव सिंह को महाराष्ट्र चुनाव से ऐन पहले फड़नवीस ने बनाया था मुख्य चुनाव आयुक्त- कांग्रेस का आरोप
ये पढ़ा क्या?
X