ताज़ा खबर
 

बिहार में सुशासन की अनदेखी कर रहे हैं नीतीश कुमार- सुशील मोदी

सुशील मोदी ने कहा कि पिछले साल से महागठबंधन सत्ता के आने के बाद से बिहार में अपराध के ग्राफ में बढ़ोतरी हुई है।

Author पटना | April 19, 2016 7:14 PM
Gujarat Election Result 2017: सुशील कुमार मोदी (पीटीआई फाइल फोटो)

भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने बिहार में पिछले साल महागठबंधन के सत्ता में आने के बाद से अपराध के ग्राफ में वृद्धि होने का आरोप लगाते हुए मंगलवार (19 अप्रैल) को कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपनी राष्ट्रीय महात्वाकांक्षाओं की कीमत पर बिहार में सुशासन की अनदेखी कर रहे हैं। यहां मंगलवार (19 अप्रैल) को जनता दरबार के बाद पत्रकारों से सुशील ने कहा कि पिछले साल से महागठबंधन सत्ता के आने के बाद से बिहार में अपराध के ग्राफ में बढ़ोतरी हुई है। अपराधी हत्या सहित अन्य अपराध को अंजाम दे रहे हैं। यहां तक की अदालत परिसर भी इससे अब अछूता नहीं रहा।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार या तो प्रदेश में विधि व्यवस्था और सरकार की जिम्मेदारी को निभाएं या फिर मुख्यमंत्री की कुर्सी को त्यागकर पूरे तौर पर अपने राष्ट्रीय महात्वाकांक्षा को पूरा करें, जिसके लिए प्रदेश की जनता ने उन्हें अपार बहुमत दिया।

नीतीश कुमार नीत बिहार की पिछली राजग सरकार में उपमुख्यमंत्री रहे सुशील ने नीतीश को सुझाव दिया कि अगर वे अपनी राष्ट्रीय महात्वकांक्षा को अधिक महत्व देते हैं तो ऐसे में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के पक्ष में मुख्यमंत्री पद छोड़ दें। उन्होंने मुख्यमंत्री पर बिहार की पुलिस को पूर्णशराबबंदी लागू करने का अतिरिक्त कार्य थोपने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश पुलिस पहले से गिरती विधि व्यवस्था को ठीक करने के कार्य के बोझ से दबी हुई है।

सुशील ने प्रदेश में पूर्णशराबबंदी के साथ आर्मी कैंटीन में शराब और तम्बाकू उत्पादों की बिक्री पर भी रोक लगाए जाने की मांग की। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ‘संघ (आरएसएस) मुक्त’ भारत का आह्वान किए जाने पर 13 मई 2006 में मुख्यमंत्री के आरएसएस संस्थापक एम एस गोवलकर की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने से संबंधित तस्वीरें जारी की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App