ताज़ा खबर
 

आपातकाल लगाने वाले अभिव्यक्ति की कर रहे हैं बात: सीतारमण

भारतीय जनता पार्टी के स्थापना दिवस पर कांग्रेस पर तीखा हमला करते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि जिस पार्टी ने आपातकाल के दौरान तानाशाही रवैये से जनता के मौलिक अधिकारों का हनन किया था, वह आज हमसे अभिव्यक्तिकी स्वतंत्रता के बारे में सवाल कर रही है।

Author April 7, 2018 2:59 AM
निर्मला सीतारमण

भारतीय जनता पार्टी के स्थापना दिवस पर कांग्रेस पर तीखा हमला करते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि जिस पार्टी ने आपातकाल के दौरान तानाशाही रवैये से जनता के मौलिक अधिकारों का हनन किया था, वह आज हमसे अभिव्यक्तिकी स्वतंत्रता के बारे में सवाल कर रही है। सीतारमण शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी के स्थापना दिवस समारोह में शामिल होने यहां आई थीं। भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि एक समय में हमारी पार्टी के दो सांसद थे, पर आज पूर्ण बहुमत से केंद्र में सरकार में है और 21 राज्यों में हमारी सरकार है। यह पार्टी की लोकप्रियता है जो दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। इसका कारण है कि हमारी सरकार ‘सबका साथ सबका विकास’ के सिद्धांत पर काम कर रही है और समाज के आखिरी व्यक्ति तक विकास कार्यक्रम बिना किसी भेदभाव के पहुंचा रही है।

उन्होंने श्यामा प्रसाद मुखर्जी, दीन दयाल उपाध्याय, नाना साहेब देशमुख, केशुभाई ठाकरे, अटल बिहारी वाजपेयी, लालकृष्ण आडवाणी जैसे नेताओं को याद करते हुए कहा कि पार्टी को बनाने में इन नेताओं की महत्त्वपूर्ण भूमिका को भुला नहीं सकते हैं। श्यामा प्रसाद मुखर्जी की संदेहास्पद रूप में हुई मौत के बाद पार्टी के कार्यकर्ताओं के बलिदान का जो सिलसिला शुरू हुआ था, वह आज भी जारी है और केरल में पार्टी की विचारधारा को बढ़ाने में हमारे कार्यकर्ता लगातार मारे जा रहे हैं। पार्टी के कार्यकर्ताओं के बलिदान और मेहनत के कारण ही आज पार्टी इस स्थान पर पहुंची है और निरंतर आगे बढ़ रही है।

रक्षा मंत्री ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, ‘आज अभिव्यक्तिकी स्वतंत्रता पर चर्चा हो सकती है लेकिन कांग्रेस के आपातकाल के दौरान क्या ऐसा संभव था। जो लोग परिवारवाद और तानाशाही के जरिये देश पर आपातकाल लगा चुके हैं, जनता की आवाज को दबा चुके हैं, जनता के मौलिक अधिकारों का हनन कर चुके हैं, विपक्ष के नेताओं को जेल भेज चुके हैं वह आज हमसे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के बारे में सवाल कर रहे हैं। यह बड़े आश्चर्य की बात है।’ उन्होंने कहा कि पूर्व में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में देश में मोबाइल क्रांति आई और अब 2014 में सरकार आने के बाद पूरे देश में एक समान विकास कार्य हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘सबका साथ सबका विकास’ के मुद्दे पर काम कर रहे हैं। इसलिए सरकार और पार्टी की लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है। बुंदेलखंड में बनने वाले इंडस्ट्रियल डिफेंस कोरिडोर के बारे में सवाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्रालय के अधिकारी उस इलाके में सर्वेक्षण कर रहे हैं और जल्द ही लघु व मध्यम उद्योगों की एक सोसायटी बनाकर उन्हें कुछ आर्डर दिए जाने की योजना है।

उन्होंने कहा कि कोरिडोर के अंतर्गत शहर में जितने फ्रेमवर्क हैं, वहां हमारे अधिकारी जाकर बात कर रहे हैं। सबको एक रक्षा सोसायटी के जरिये इकठ्ठा करने की कोशिश की जा रही है। हर एक इंडस्ट्री जिसे आने वाले दिनों में डिफेंस इंडस्ट्री में शामिल करना है, उस पर भी चर्चा हो रही है। उन्होंने कहा कि अभी चेन्नई में डिफेंस एक्सपो होने वाला है। हम वहां भी कॉरिडोर बनाने वाले हैं। वहां के हिसाब से यहां भी देखेंगे। सबका साथ सबका विकास हमारा नारा है।

पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा के स्थापना दिवस पर सबको बधाई देता हूं। 11 लोगों से शुरू हुई पार्टी आज 11 करोड़ सदस्यों के साथ सबसे बड़ी पार्टी है। 21 राज्यों में आज हमारी सरकार है। भाजपा देश में अपना प्रभाव बढ़ाते हुए आगे बढ़ रही है। दलित सांसदों के साथ भेदभाव के मुद्दे पर पूछे गए सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार किसी के साथ भेदभाव नहीं करती है। भारत बंद के दौरान जो हुआ है। उसके लिए पहले ही कहा गया है कि आगजनी दंगा करते हुए जो लोग वीडियोग्राफी में पहचाने गए हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।
अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि 37 लाख से अधिक गरीबों को राशन कार्ड उपलब्ध कराया गया है। बिजली कनेक्शन दिया। आवास दिया। यह सब गरीबों और वंचितों को दिया गया है। जब हम सरकार में आए थे तो एक करोड़ से ज्यादा परिवारों के पास कनेक्शन नहीं था। अब 32 लाख परिवारों को बिजली कनेक्शन दिया गया है। सब जानते हैं कि भाजपा सरकार बनते ही विद्युत आपूर्ति सुधरी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App