ताज़ा खबर
 

दिल्ली सरकार और एनडीएमसी को एनजीटी का नोटिस

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने बवाना में कचरे से बिजली बनाने वाले संयंत्र के परिचालन में हो रही अत्यधिक देरी के कारण बुधवार को दिल्ली सरकार और उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) की खिंचाई की।

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी)। (फाइल फोटो)

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने बवाना में कचरे से बिजली बनाने वाले संयंत्र के परिचालन में हो रही अत्यधिक देरी के कारण बुधवार को दिल्ली सरकार और उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) की खिंचाई की। संयंत्र के अब तक शुरू नहीं होने को लेकर एनजीटी ने बवाना संयंत्र के परियोजना प्रस्तावक को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

अधिकरण के अध्यक्ष स्वतंत्र कुमार की अगुवाई वाले एक खंडपीठ ने कहा – आप लोग (एनडीएमसी और परियोजना प्रस्तावक) कचरे से बिजली बनाने वाले संयंत्र को क्यों नहीं शुरू कर रहे हैं? हम लोग पिछले एक वर्ष से निर्देश दे रहे हैं। लोगों को इससे परेशानी हो रही है, कचरा इधर-उधर बिखरा हुआ है लेकिन आप लोग कुछ नहीं कर रहे हैं। आप लोग अजीब हैं।

कार्यवाही के दौरान परियोजना प्रस्तावक के वकील ने खंडपीठ को बताया कि बवाना संयंत्र परिचालन के लिए तैयार है लेकिन इसे एनडीएमसी की तरफ से अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं प्राप्त हुआ है। अधिकरण ने नगर निगम को रोहिणी इलाके में कचरा जलाने के लिए भी लताड़ा और इस बारे में एक रिपोर्ट जमा करने को कहा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories