ताज़ा खबर
 

राजदीप सरदेसाई बोले, कंगना को कानून से न्याय मिला, क्या रिया के केस में भी ऐसा होगा?

बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना रनौत के स्टूडियो को गिराने की बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी, राजदीप ने अदालत के इस फैसले का स्वागत किया।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र मुंबई | Updated: September 9, 2020 3:37 PM
kangana ranaut, kangana ranaut to Rajdeep Sardesai, Rajdeep Sardesai,कंगना रनौत और वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई।

सुशांत सिंह राजपूत केस में देशभर की जांच एजेंसियों की पूछताछ का सामना कर रही रिया चक्रवर्ती को अब बॉलीवुड सितारों का साथ मिलना शुरू हो गया है। पिछले दो दिनों में कई सेलिब्रिटीज ने उनके पक्ष में आवाज उठाई। साथ ही रिया के मीडिया ट्रायल को भी गलत करार दिया। इसी कड़ी में पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने भी ट्वीट किया है। उन्होंने कंगना के स्टूडियो को ढहाए जाने पर बॉम्बे हाईकोर्ट की तरफ से दिए गए स्टे का स्वागत किया और उम्मीद जताई कि कानून रिया के केस में भी ऐसा ही कुछ करेगा।

दरअसल, बुधवार को ही बृहनमुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन (बीएमसी) ने बुलडोजर से कंगना के स्टूडियो के एक हिस्से को ध्वस्त कर दिया। बॉम्बे हाईकोर्ट ने बाद में कंगना रनौत के स्टूडियो को गिराने की बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी। इस पर पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने कहा कि कानून ने एक नागरिक को राज्य द्वारा ताकत के गलत इस्तेमाल से बचाया। क्या रिया चक्रवर्ती के केस में ऐसा होगा?

राजदीप के इस ट्वीट पर ट्विटर यूजर्स ने अलग-अलग तरह के कमेंट्स किए। जहां कुछ लोगों ने कंगना के स्टूडियो को तोड़े जाने का विरोध किया, वहीं कुछ लोग अभिनेत्री के पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर कमेंट पर ही तंज कसने लगे। एक यूजर अमयनगर ने लिखा, “आप रिया के केस को कंगना के केस से क्यों जोड़ रहे हैं? कंगना का स्टूडियो हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ तोड़ी जा रही थी, लेकिन आप महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ नहीं बोल सकते, क्योंकि आपमें हिम्मत ही नहीं है।”

एक अन्य यूजर भूपेश दवे ने बॉलीवुड पर तंज कसते हुए कहा कि कुछ घंटे पहले तक जो पितृसत्ता खत्म करने के पोस्ट कर रहे थे, वह कुछ ही देर में कंगना की प्रॉपर्टी तोड़ने का पोस्ट करने लगे। कंगना के सपोर्ट में कोई नहीं आया, वह अकेले ही लड़ रही है। वहीं यूजर @KhanAsmeena ने लिखा, “जब कंगना ने ही ऑफिस PoK में खोला है, तो इसमें बीएमसी क्या कर सकती है?” बता दें कि कंगना ने कुछ दिन पहले ही अपने एक ट्वीट में उद्धव सरकार की आलोचना करते हुए कहा था कि मुंबई अब PoK जैसा लगने लगा है।

शरद पवार ने BMC की कार्रवाई को गैरजरूरी बतायाः राकांपा प्रमुख शरद पवार ने बीएमसी के कंगना के खिलाफ की गई कार्रवाई को गलत बताया। उन्होंने कहा कि मुंबई में और भी अवैध निर्माण हैं और यह कार्रवाई गैरजरुरी है। यह देखना होगा कि बीएमसी ने यह फैसला क्यों लिया। इस कार्रवाई से कंगना को बोलने का मौका मिला है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पासवान के बदले मांझी को खड़ा कर भाव नहीं दे रहे नीतीश, जानें- एलजेपी के पास अब क्या हैं विकल्प
2 रिया के समर्थन में उतरे सितारे, टीशर्ट पर नारे लिखकर मांग रहे न्याय, मोदी सरकार के आलोचक हैं कई
3 बिहार चुनाव: चार दर्जन सीटों पर है मुस्लिमों का दबदबा, पर MY समीकरण वाले राजद महागठबंधन की नहीं राह आसान, जानें- क्यों?
ये पढ़ा क्या?
X