ताज़ा खबर
 

यूपी: ठाकुर की गाड़ी रोकी तो हुआ बवाल, 12 दलितों की बुरी तरह पिटाई

उत्तर प्रदेश के आगरा में ऊंची जाति के लोगों से झड़प में 12 दलित गंभीर रूप से घायल हो गए।घटना सलेमपुर गांव की है। जहां आई एक बारात के दौरान यह घटना हुई।घटना उस वक्त हुई, जब दलितों ने एक ठाकुर जाति के व्यक्ति के दोपहिया वाहन को जाने की इजाजत नहीं दी।

Author नई दिल्ली | July 4, 2018 5:14 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

उत्तर प्रदेश के आगरा में ऊंची जाति के लोगों से झड़प में 12 दलित गंभीर रूप से घायल हो गए।घटना सलेमपुर गांव की है। जहां आई एक बारात के दौरान यह घटना हुई।घटना उस वक्त हुई, जब दलितों ने एक ठाकुर जाति के व्यक्ति के दोपहिया वाहन को रास्ते से जाने की इजाजत नहीं दी।दलित ने कहा कि रास्ता संकरा है, इस नाते बाइक नहीं जा सकती। पुलिस के मुताबिक सोमवार को रात साढ़े दस बजे हिंसक भिड़ंत हुई, जब बारात के जुलूस में शामिल हुए दलितों ने दिगंबर सिंह नामक ठाकुर की पिटाई कर दी।

इस पर दिगंबर ने अपने परिवार के लोगों को अपनी पिटाई की बात कही। जिस पर राजपूत लाठी-डंडे लेकर आए और दलितों की पिटाई शुरू कर दी।दूल्हन के पिता रामस्वरूप, भतीजे ओमवीर और दूल्हे के भाई बृजेश को भी ठाकुरों ने नहीं छोड़ा। मीडियाकर्मियों से बातचीत में दूल्हे के पिता नेम सिंह ने ऊंची जाति के लोगों पर महिलाओं के उत्पीड़न का भी आरोप लगाया।उन्होंने कहा कि ऊंची जाति के लोगों ने बारात में शामिल बच्चों को भी जहां पीटा, वहीं बारातस्थल पर खड़े वाहनों को भी क्षतिग्रस्त किया।

इस मारपीट के बीच किसी तरह से मथुरा के गोवर्धन निवासी दूल्हे अजय भारत पब्लिक स्कूल स्थित बारातस्थल तक पहुंचने में सफल रहे। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने अपनी मौजूदगी में शादी कराई। फराह थाने के प्रभारी आजाद पाल सिंह ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ आइपीसी की संबंधित धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है। बच्चों के उत्पीड़न पर पाक्सो एक्ट भी लगाया गया है। ठाकुरों की ओर से थाने में कोई रिपोर्ट नहीं दर्ज कराई गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App