scorecardresearch

छह फुट से ज्यादा नीचे गिरा यमुना का जलस्तर, संकट बढ़ा

गुरुवार को दिल्ली में यमुना नदी पर जलस्तर 668.30 फुट दर्ज किया गया जो सामान्य से 6.20 फुट नीचे है।

यमुना के जलस्तर में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। गुरुवार को दिल्ली में नदी का स्तर सामान्य से छह फुट अधिक नीचे दर्ज किया गया। इसका असर दिल्ली में जलापूर्ति व्यवस्था पर भी दिख रहा है। जल बोर्ड ने आम जनता को पानी सावधानी से प्रयोग करने की सलाह दी है और आवश्यकता के अनुसार पानी भरकर रखने की सलाह दी है।

गुरुवार को दिल्ली में यमुना नदी पर जलस्तर 668.30 फुट दर्ज किया गया जो सामान्य से 6.20 फुट नीचे है। अदालत के आदेश के मुताबिक वजीराबाद तालाब पर नदी का स्तर 674.50 तय किया गया है। जल बोर्ड का कहना है कि हरियाणा से कम मिल रहे पानी की वजह से यह जलस्तर गिर रहा है। इसका असर दिल्ली के वजीराबाद, चंद्रावल और ओखला संयंत्रों पर पड़ रहा है। जल बोर्ड का कहना है कि जब तक जलस्तर सामान्य नहीं होता तब तक संयंत्र के अंतर्गत आने वाले इलाकों में पानी सिलसिलेवार तरीके से उपलब्ध कराया जाएगा।

अभी जिन इलाकों में इस कटौती का असर देखा जा रहा है, उन इलाकों में नई दिल्ली, छावनी, दक्षिणी दिल्ली, सिविल लाइन, हिंदूराव अस्पताल, कमला नगर, शक्ति नगर, राजेंद्र नगर, पटेल नगर, आंबेडकर नगर, माडल टाउन, पंजाबी बाग, जहांगीर पुरी, गुलाबी बाग, मूल चंद समेत आसपास के इलाके शामिल हैं। जल बोर्ड के मुताबिक अगर इन इलाकों में जनता को पानी अधिक परेशानी होती है तो पानी के लिए जल बोर्ड के केंद्रीय कक्ष 1916 पर फोन करके टैंकर मंगा सकते हैं।

पढें नई दिल्ली (Newdelhi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.