violence over padmavat at dnd flyover noida - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पद्मावत का हिंसक विरोध, डीएनडी पर आगजनी

सेंसर बोर्ड की मंजूरी और सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद रविवार को फिल्म पद्मावत को लेकर विरोध एकाएक हिंसक हो गया।

Author नोएडा | January 22, 2018 5:19 AM
फिल्म पद्मावत में दीपिका पादुकोण। (फाइल फोटो)

सेंसर बोर्ड की मंजूरी और सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद रविवार को फिल्म पद्मावत को लेकर विरोध एकाएक हिंसक हो गया। प्रदर्शनकारियों ने डीएनडी फ्लाई वे पर तोड़-फोड़ कर विरोध जताया। डीएनडी टोल बूथ के काउंटरों के शीशे तोड़ दिए और प्लास्टिक अवरोधकों (बैरियर) को आग के हवाले कर दिया। इसके अलावा नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर भी टायरों को रखकर आग लगा दी। इनसे डीएनडी और एक्सप्रेस वे, दोनों जगहों पर लंबा जाम लग गया। पुलिस ने जलते हुए टायरों और अवरोधकों को हटाकर रास्ता खुलवाया। डीएनडी पर पुलिस को हल्का लाठीचार्ज करना पड़ा। कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया गया। उधर, 25 जनवरी से प्रदर्शित (रिलीज) होने वाली फिल्म पद्मावत की आॅनलाइन टिकटों की बुकिंग जारी है। बताया गया है कि शहर के ज्यादातार सिनेमाघरों में पहले दिन के शो तकरीबन हाउसफुल हो चुके हैं। एहतियातन मॉल के बाहर सुरक्षा बंदोबस्त बढ़ा दिए हैं।
पद्मावत को लेकर रविवार को राजपूत समाज के सदस्यों ने उग्र प्रदर्शन करते हुए पहले नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे को जाम कर दिया। बीच में झाड़ियां और टायर रखकर आग लगा दी। जिससे कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया। इसी तरह दिल्ली से नोएडा को जोड़ने वाले डीएनडी पर भी प्रदर्शनकारियों ने जमकर उत्पात मचाया और टोल बूथों पर तोड़फोड़ कर दी। यातायात नियंत्रित करने के लिए रखे गए प्लास्टिक अवरोधकों में आग लगा दी।

इस वजह से डीएनडी पर भी वाहनों का संचालन कुछ समय के लिए रोकना पड़ा। पद्मावत के प्रदर्शन पर विरोध जताने दोपहर को अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा की अगुआई में बड़ी संख्या में राजपूत समाज के लोग सेक्टर- 19 स्थित सिटी मैजिस्ट्रेट कार्यालय पहुंचे। जहां नारेबाजी करते हुए फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग की। महासभा के राष्ट्रीय महामंत्री आरपी सिंह ने कहा कि फिल्म में क्षत्रियों के गौरवमय इतिहास से छेड़छाड़ की गई है। समाज और इतिहास को धूमिल नहीं होने देंगे। जिसके लिए समाज किसी भी कुर्बानी के लिए तैयार है। उन्होंने उत्तर प्रदेश में फिल्म का प्रदर्शन रोकने की मांग की। ऐसा नहीं होने पर परिणाम भुगतने की चेतावनी भी दी। पद्मावत के विरोध में डीएनडी टोल बूथ पर पहुंचे कार्यकर्ताओं को पुलिस ने खदेड़ दिया। पहले पुलिस ने उन्हें हटने को कहा। उसके बाद हल्का बल प्रयोग कर प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया। काफी संख्या में प्रदर्शन करने वाले दिल्ली की तरफ भाग गए। प्रदर्शनकारियों ने बूथ पर लगे काउंटरों के शीशे तोड़ दिए। उधर, सिनेमाघरों की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है। बगैर सघन जांच के किसी को अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App