ताज़ा खबर
 

अबू सलेम का गुर्गा और रवीना टंडन के पति को गोली मारने का आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार

विशेष टाड़ा कोर्ट ने शुक्रवार (15 जून) को ही अबू सलेम को बंबई धमाकों के मामले में दोषी पाया है।

अबू सलेम का गुर्गा जान उस्मान गिरफ्तार (PHOTO-ANI)

गैंगस्टर अबू सलेम के एक संदिग्ध साथी को पूर्वी दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया है। वह हत्या, हत्या की कोशिश और जबरन वसूली समेत कई मामलों में वांछित है। पुलिस ने आज (16 जून) बताया कि करीब 30 साल का जान उस्मान खान उर्फ रीनू दिल्ली और मुंबई में लंबे समय से गिरफ्तारियों की सूची में था और उसे कल रात संजय झील के पास के इलाके से गिरफ्तार किया गया। तीन जून को जनकपुरी में अपनी पत्नी को कथित तौर पर गोली मारने वाले खान को पहले मुंबई पुलिस ने अभिनेत्री रवीना टंडन के पति अनिल थडानी को गोली मारने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

पुलिस उपायुक्त :पूर्व: ओमवीर सिंह ने खान की गिरफ्तारी की पुष्टि की है और उन्होंने कहा कि उससे पूछताछ की जा रही है। वह गैंगस्टर अबू सलेम का साथी माना जाता है जो अभी रायगढ़ में तलोजा केंद्रीय कारागार में बंद है। एक टाडा अदालत ने सलेम को 1993 सिलसिलेवार बम धमाकों के लिए हथियारों को गुजरात से मुंबई भेजने का आज दोषी ठहराया। सलेम गिरोह के साथ खान के संपर्कों का पता लगाते हुए एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि वह 1996 में मुंबई गया जहां उसकी मुलाकात टी सीरीज कैसेट के मालिक और फिल्म निर्माता गुलशन कुमार की हत्या के आरोपी गिरोह के शार्पशूटर वसीम से हुई। वसीम ने खान को सलेम से मिलवाया और वह उसके गिरोह में शामिल हो गया।

सलेम ने बाद में उसे आफताब भटकी से मिलवाया जो दुबई और कराची से जाली भारतीय नोटों का एक रैकेट चला रहा था। खान गिरोह में शामिल हो गया और उसने नेपाल तथा बांग्लादेश के रास्ते से भारत में जाली नोटों का जाल फैलाना शुरू कर दिया लेकिन उसे वर्ष 2000 में जाली भारतीय नोटों के मामले में दिल्ली में गिरफ्तार कर लिया गया। रिहा होने के बाद वह मुंबई चला गया और उसने सलेम के इशारों पर बॉलीवुड में लोगों से पैसे वसूल करने शुरू कर दिए। उसे थड़ानी पर हमला करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया। सलेम को इस मामले में 2006 में गिरफ्तार किया गया।

मुंबई जेल से रिहा होने के बाद खान दिल्ली आया और 2010 में उसे अवैध हथियार रखने के लिए हथियार कानून के तहत कल्याणपुरी से दोबारा गिरफ्तार कर लिया गया। उसे विकासपुरी में एक कारोबारी की हत्या के मामले में भी गिरफ्तार किया गया। उसने विनोद पंडित के साथ मिलकर फाइनेंसर हेमंत बिरजी को कथित तौर पर गोली मारी थी। इन मामलों में जमानत पर छूटने के बाद वह मुकदमे का सामना करने के लिए कभी अदालत में पेश नहीं हुआ और उसे तीन मामले में घोषित अपराधी घोषित कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि खान ने सलेम के निर्देशों पर धन वसूलने के लिए गायक दलेर मेहंदी और फिल्म निर्माता राकेश रोशन पर भी गोली चलाई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App