ताज़ा खबर
 

दिल्ली: रेल की पटरी पर वीडियो बनाते दो छात्र कटे

स्टंट के लिए उन्होंने डेढ़ हजार रुपए में किराए पर कैनन का कैमरा भी लिया था।

Author नई दिल्ली | January 17, 2017 2:44 AM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

पूर्वी दिल्ली के आनंद विहार रेलवे क्षेत्र में दो किशोरों की रेलवे ट्रैक पर स्टंटबाजी का वीडियो बनाते समय मौत हो गई। दोनों ईएमयू ट्रेन की चपेट में आ गए और अपनी जिंदगी गंवा दी। 15 साल के यश और 14 साल के शुभम सैनी पूर्वी दिल्ली के एक निजी पब्लिक स्कूल के छात्र थे।  शुरुआती जांच में इनके आपस में ही वीडियो बनाने के दौरान हादसे की बात सामने आई है। लेकिन पुलिस अन्य बिंदुओं से भी मामले की जांच कर रही है। रेलवे के उपायुक्त परवेज अहमद का कहना है कि बच्चों के शव को पोस्टमार्टम के बाद उनके अभिभावकों को सौंप दिया गया है। पुलिस उपायुक्त का कहना है कि जिंदगी को दांव पर लगाकर रेलवे ट्रैक पर स्टंट करते हुए एक-दूसरे का वीडियो बनाना दोनों छात्रों के लिए महंगा पड़ गया।  शनिवार शाम अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन से थोड़ी दूर हटकर रेलवे ट्रैक पर वीडियो शूट कर रहे शुभम सैनी और यश के साथ उनके अन्य पांच साथी भी थे। दोनों एक-दूसरे का वीडियो बना रहे थे, तभी ट्रेन की चपेट में आ गए। स्टंट के लिए उन्होंने डेढ़ हजार रुपए में किराए पर कैनन का कैमरा भी लिया था। उपायुक्त परवेज अहमद ने बताया कि शुरुआती जांच में रेलवे ट्रैक पर स्टंट करते हुए फोटो और वीडियो शूट करने में दोनों छात्रों की मौत सामने आई है। पुलिस उनके अन्य साथी छात्रों से भी पूछताछ कर रही है। उन्होंने बताया कि शनिवार शाम करीब पौने छह बजे पुलिस को सूचना मिली कि अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक पर एक घायल किशोर पड़ा है।

एसीपी रेलवे व एसएचओ आनंद विहार मौके पर पहुंचे तो रेलवे ट्रैक पर शशी गार्डन दिल्ली के गली नंबर-दस बी-76 निवासी शुभम सैनी का शव व दूसरे रेलवे ट्रैक पर प्रताप नगर मयूर विहार फेस-एक के रहने वाले यश का शव पड़ा हुआ था। शुभम और यश एस्टर पब्लिक स्कूल में 10वीं के छात्र थे। पुलिस को मौके पर समसपुर मयूर विहार फेस-एक के मकान नंबर 35 में रहने वाले रोहित कुमार, त्रिलोकपुरी के तुषार अंशुल, दिल्ली पुलिस अपाटर्मेंट मयूर विहार के भवीत तोमर व रोहित सिंह और पांडवनगर सी ब्लाक के अमन की भी पहचान की गई।सभी बच्चे दस से 15 साल के बीच के हैं। रोहित ऋषभ पब्लिक स्कूल में 10वीं का छात्र है। तुषार अंशुल प्रेम चंद राजकीय सर्वोदय स्कूल में 9वीं, भवीत एंड्रयू स्कूल में 8वीं, रोहित सिंह एस्टर पब्लिक स्कूल में 10वीं, और अमन केंद्रीय विद्यालय में 8वीं का छात्र है। पुलिस के मुताबिक, सभी सातों छात्र अक्षरधाम स्थित रेलवे ट्रैक पर स्टंट करने के लिए गए थे। पांच लड़के रेलवे ट्रैक के किनारे खड़े थे जबकि शुभम व यश ट्रैक पर खड़े हो गए। दोनों सामने से आती ट्रेन के सामने फोटो-वीडियो शूट कराने लगे। फोटो शूट करने के दौरान दोनों का ध्यान सामने से आ रही ट्रेन से हट गया। जब ट्रेन बिल्कुल नजदीक आ गई तो उन्होंने दूसरे ट्रैक की ओर छलांग लगाने की कोशिश की, लेकिन वे इस बात से अनजान थे कि दूसरे ट्रैक पर भी एक ट्रेन आ रही है। दोनों तरफ से ट्रेन आने के कारण उन्हें समझ में नहीं आया कि वे क्या करें और ट्रेन की चपेट में आ गए। ट्रैक से इएमयू ट्रेन गुजर रही थी। बताया जा रहा है कि ये सभी छात्र फेसबुक पर स्टंट के फोटो डालने के लिए योजना बनाकर निकले थे। यश के परिजनों का कहना है कि यश दो बजे ट्यूशन के लिए घर से बाहर निकला था और शाम चार बजे ट्यूशन से निकलने के बाद वह दोस्तों के साथ फोटो वीडियो शूट करने चला गया और फिर यह दर्दनाक हादसा हो गया।

 

असम: तेज़ रफ्तार ट्रेन की चपेट में आने से 3 हाथियों की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App