ताज़ा खबर
 

नई दिल्ली: नाबालिग से सामूहिक बलात्कार, तीन गिरफ्तार

सड़क हादसे में घायल चाचा-चाची की सेवा करने आई 16 साल की एक किशोरी के साथ न्यू अशोक नगर इलाके में तीन लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया।

Author नई दिल्ली/कोलकाता, | December 18, 2016 2:36 AM
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

सड़क हादसे में घायल चाचा-चाची की सेवा करने आई 16 साल की एक किशोरी के साथ न्यू अशोक नगर इलाके में तीन लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया। इस घटना को पीड़ित किशोरी के चाचा के मकान मालिक ने अपने दो किराएदारों के साथ अंजाम दिया और फिर किशोरी को बेहोशी की हालत में घर के बाहर फेंककर फरार हो गए। पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए 24 घंटे के भीतर ही तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पूर्वी जिले के पुलिस उपायुक्त ओमवीर सिंह ने बताया कि सूचना मिलते ही पुलिस ने फौरन कार्रवाई करते हुए पहले पीड़ित किशोरी को लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में भर्ती कराया और फिर उसका मेडिकल कराने के बाद उसकी महिला मनोचिकित्सकों से काउंसलिंग कराई गई। पीड़िता से वारदात का ब्योरा मिलने के बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ नशीला पदार्थ सुंघाकर सामूहिक बलात्कार करने व पॉक्सो की धाराओं में मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार आरोपियों में 40 साल का मकान मालिक प्रशांत और उसके दोनों किराएदार विकास सिंह (25) व संजीव (28) शामिल है। बिहार के मुजफ्फरपुर की रहने वाली पीड़िता दस दिन पहले ही अपने चाचा-चाची के घर आई थी। 23 नवंबर को दोनों एक सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गए थे। उनका एम्स में इलाज चल रहा है। घर में देखभाल के लिए किसी के नहीं होने के कारण किशोरी को बिहार से दिल्ली बुलाया गया था। किराए के इस घर में पहली मंजिल पर चाचा-चाची जबकि ऊपरी मंजिलों पर आरोपी मकान मालिक प्रशांत और दोनों किराएदार विकास व संजीव रहते हैं।

पुलिस उपायुक्त के मुताबिक, गुरुवार रात करीब दस बजे पीड़िता खाना बना रही थी। इसी दौरान प्रशांत, विकास व संजीव ने खिड़की से हाथ डालकर रुमाल में कुछ नशीला पदार्थ डालकर पीड़िता को सुंघा दिया। उसके बाद तीनों आरोपी खिड़की से ही उसे खींचकर दूसरी मंजिल पर ले गए। यहां पहले प्रशांत व उसके दोनों किराएदारों ने बारी-बारी से बलात्कार किया। रात करीब तीन बजे आरोपी पीड़िता को उसे कमरे के बाहर टेबल पर लिटाकर फरार हो गए। अचेत पड़ी युवती को देख पास के दूसरे मकान में रह रहे लोगों ने कुछ अनहोनी की आंशका से पुलिस को सूचना दे दी। शुक्रवार तड़के पुलिस ने पहले पीड़िता को अस्पताल पहुंचाया जहां मेडिकल की पुष्टि के बाद आरोपियों की तलाश करते हुए दबिश देकर तीनों को गिरफ्तार कर लिया।

बताया जा रहा है कि जिस आरोपी जिस समय पीड़िता के साथ हैवानियत का खेल खेल रहे थे उस समय उस मकान में कई अन्य लोग थे पर कमरे की बंत्ती बंद कर दी गई थी जिससे किसी को इस घटना का पता नहीं चला। शुरूआती जांच में आशंका है कि तीनों आरोपियों ने पहले शराब पीया और फिर वारदात को अंजाम दिया। तीनों आरोपियों का रात में ही मेडिकल जांच भी कराया गया। पुलिस को यह भी पता चला है मकान मालिक का चाल-चलन ठीक नहीं है। इससे पहले भी उसके खिलाफ इस तरह के मामले दर्ज हो चुके हैं। पीड़िता के एक अन्य चाचा न्यू अशोक नगर इलाके में ही रहते हैं।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App