ताज़ा खबर
 

पीएमओ जा रहे तेदेपा के प्रदर्शनकारी सांसदों को हिरासत में लिया

तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के सांसदों को रविवार को पुलिस ने उस समय हिरासत में ले लिया जब उन्होंने आंध्र प्रदेश के लिए विशेष श्रेणी दर्जे की मांग करते हुए यहां सात, लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री आवास के पास प्रदर्शन की कोशिश की।

Author नई दिल्ली | April 9, 2018 06:17 am
प्रधानमंत्री आवास की ओर जा रहे सांसदों को रास्ते में ही हिरासत में ले लिया गया।

तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के सांसदों को रविवार को पुलिस ने उस समय हिरासत में ले लिया जब उन्होंने आंध्र प्रदेश के लिए विशेष श्रेणी दर्जे की मांग करते हुए यहां सात, लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री आवास के पास प्रदर्शन की कोशिश की। प्रदर्शन का फैसला रविवार को तब किया गया जब पार्टी सांसदों ने भविष्य के कदम पर फैसला करने के लिए रविवार को सुबह राज्यसभा सदस्य व पूर्व केंद्रीय मंत्री वाईएस चौधरी के आवास पर बैठक की। प्रधानमंत्री आवास की ओर जा रहे सांसदों को रास्ते में ही हिरासत में ले लिया गया।

सांसद जयदेव गल्ला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ही विशेष श्रेणी दर्जे पर फैसला लेना है। उन्हें अपना वायदा पूरा करना चाहिए, इसीलिए हम उनके सामने अपनी मांगें उठाना चाहते हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सांसदों के साथ एकजुटता जताते हुए थाने में सांसदों से मुलाकात की। केजरीवाल ने बाद में एक ट्वीट में कहा- हम उन्हें हिरासत में लिए जाने की निंदा करते हैं और आंध्र को विशेष दर्जे की मांग का पूर्ण समर्थन करते हैं। आंध्र प्रदेश को विशेष श्रेणी दर्जा दिए जाने से भाजपा नीत केंद्र सरकार के इनकार के बाद तेलुगू देशम पार्टी ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से अपने मंत्रियों को हटा लिया था और राजग से नाता तोड़ लिया था। तेदेपा ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव भी पेश किया। हालांकि संसद में लगातार गतिरोध के चलते इसे चर्चा के लिए नहीं लिया जा सका।

इस बीच, आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने को लेकर राज्य के सांसदों के बीच एकता की कमी पर अफसोस जताते हुए वाईएसआर कांग्रेस पार्टी ने रविवार को कहा कि एकता नहीं होने के कारण केंद्र उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रहा है।
वाईएसआर कांग्रेस की मानद अध्यक्ष वाईएस विजयम्मा ने नई दिल्ली में आंध्र प्रदेश भवन में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे अपनी पार्टी के सांसदों से मुलाकात के दौरान राज्य के सांसदों में एकता की कमी पर दुख जताया। वे राज्य के दिवंगत मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी की पत्नी और पार्टी अध्यक्ष वाईएस जगनमोहन रेड्डी की मां हैं।

उन्होंने कहा कि विगत में अनिश्चितकालीन हड़ताल इतनी प्रभावी होती थीं कि इनकी तरफ सरकार का ध्यान जाता था और वह उनका जवाब देती थी। अब विपक्षी दलों के कई प्रयासों के बावजूद कुछ नहीं हो रहा है। उनका इशारा वाईएसआर कांग्रेस के सांसदों के भूख हड़ताल से तेलुगुदेशम पार्टी के अलग रहने और केंद्र द्वारा राज्य को विशेष दर्जा देने से इनकार की तरफ था। आंध्र प्रदेश में वाईएसआर कांग्रेस मुख्य विपक्षी दल है।

सांसद जयदेव गल्ला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ही विशेष श्रेणी दर्जे पर फैसला लेना है। उन्हें अपना वायदा पूरा करना चाहिए, इसीलिए हम उनके सामने अपनी मांगें उठाना चाहते हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सांसदों के साथ एकजुटता जताते हुए थाने में सांसदों से मुलाकात की। केजरीवाल ने बाद में एक ट्वीट में कहा- हम उन्हें हिरासत में लिए जाने की निंदा करते हैं और आंध्र को विशेष दर्जे की मांग का पूर्ण समर्थन करते हैं। वाईएसआर कांग्रेस की मानद अध्यक्ष वाईएस विजयम्मा ने नई दिल्ली में आंध्र प्रदेश भवन में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे अपनी पार्टी के सांसदों से मुलाकात के दौरान राज्य के सांसदों में एकता की कमी पर दुख जताया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App