ताज़ा खबर
 

स्पेशल पैकेज की मांग को लेकर संसद के बाहर TDP का अनोखा प्रदर्शन, देखें वीडियो

प्रदर्शन कर रहे सांसद कह रहे थे, "सभी लोग सुन रहा है, पूरा हिन्दुस्तान सुन रहा है, कांग्रेस को देख लिया, अब आगे भी देखेंगे, आंध्रा का गुस्सा बहुत महंगा पड़ेगा।" आंध्र प्रदेश के ये सांसद इशारों-इशारों में बीजेपी को भी कह रहे थे कि आंध्र का गुस्सा इस बार इसी पार्टी पर ही दिखने वाला है।

संसद के बाहर महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने प्रदर्शन कर रहे टीडीपी सांसद

स्पेशल पैकेज की मांग को लेकर आंध्र प्रदेश के सदस्यों का हंगामा जारी है। शुक्रवार (9 फरवरी) को भी तेलुगू देशम पार्टी के सदस्यों ने सदन से बाहर अनूठा प्रदर्शन किया। टीडीपी सांसदों का प्रदर्शन बहुत कुछ मदारी के खेल जैसा रहा। इस दौरान एक सदस्य कपड़े खोलकर तमाशा दिखाने लगा। जबकि बाकी लोग हाथों में बैनर-पोस्टर लेकर खड़े थे। प्रदर्शन कर रहे सांसद बोल रहे थे, “सभी लोग सुन रहा है, पूरा हिन्दुस्तान सुन रहा है, कांग्रेस को देख लिया, अब आगे भी देखेंगे, आंध्रा का गुस्सा बहुत महंगा पड़ेगा।” आंध्र प्रदेश के ये सांसद इशारों-इशारों में बीजेपी को भी कह रहे थे कि आंध्र का गुस्सा इस बार इसी पार्टी पर ही दिखने वाला है। सदन के अंदर भी इस मसले को लेकर पुरजोर हंगामा देखने को मिला। आंध्रप्रदेश पुनर्गठन अधिनियम के प्रावधानों को लागू करने, पृथक रेलवे जोन तथा कुछ अन्य मांगों को लेकर चार दिनों से लोकसभा में प्रदर्शन कर रहे तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) और वाईएसआर कांग्रेस के सदस्यों का हंगामा शुक्रवार (9 फरवरी) भी जारी रहा । हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। सुबह सदन की कार्यवाही आरंभ होने पर तेदेपा के सदस्य नारेबाजी करते हुए अध्यक्ष के आसन के निकट पहुंच गए। उनके साथ वाईएसआर कांग्रेस के सदस्य भी हाथों में तख्तियां लेकर खड़े रहे। शोर शराबा कर रहे सदस्य ‘‘वी वांट जस्टिस’’, ‘‘वादों का क्या हुआ’’ जैसे नारे लगा रहे थे।

हंगामे के बीच अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने प्रश्नकाल चलाने का प्रयाय किया लेकिन सदस्यों का हंगामा जारी रहा। इसके बाद अध्यक्ष ने करीब पांच मिनट बाद सदन की कार्यवाही 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। तेदेपा के सदस्य अपनी मांगों को लेकर मंगलवार से हंगामा कर रहे हैं। उनके साथ वाईएसआर कांग्रेस के सदस्य भी उनके साथ सदन में खड़े रहे। आंध्र के मुद्दे पर वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कल लोकसभा में कहा था कि आंध्र के विषय पर सदस्यों की आंकाक्षा के अनुरूप विशेष पैकेज और राजस्व हानि के महत्वपूर्ण मुद्दों को अगले कुछ दिनों में सुलझा लिया जायेगा

ऐसा ही हंगामेदार दृश्य उच्च सदन राज्यसभा में देखने को मिला। आंध्र प्रदेश के लिए विशेष पैकेज की मांग पर हंगामे की वजह से बैठक शुरू होने के कुछ ही देर बाद दोपहर बारह बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने आवश्यक दस्तावेज सदन के पटल पर रखवाए। इसके बाद उन्होंने जैसे ही शून्यकाल शुरू करने को कहा, कांग्रेस के केवीपी रामचंद्र राव एक बैनर लिए आसन के समक्ष आ गए। बैनर पर आंध्रप्रदेश को विशेष श्रेणी का दर्जा दिए जाने की मांग की गई थी।राव के बाद, तेदेपा के सांसदों ने भी अपने राज्य को विशेष पैकेज दिए जाने की मांग उठाई और आसन के समक्ष आ कर अपनी मांग के पक्ष में नारे लगाने लगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App