ताज़ा खबर
 

बिना मुख्यमंत्री और नेताओं के कैसा विशेष सत्र: माकन

अजय माकन ने दिल्ली विधान सभा के अध्यक्ष राम निवास गोयल को पत्र लिखकर दिल्ली सरकार के तीन पूर्व मंत्रियों के संगीन मामलों लिप्त होने के कारण उनकी सदस्यता रद्द करने की मांग की है।

Author नई दिल्ली | Published on: September 9, 2016 1:43 AM
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन। (पीटीआई फोटो)

अजय माकन ने दिल्ली विधान सभा के अध्यक्ष राम निवास गोयल को पत्र लिखकर दिल्ली सरकार के तीन पूर्व मंत्रियों के संगीन मामलों लिप्त होने के कारण उनकी सदस्यता रद्द करने की मांग की है। उन्होंने 21 विधायकों जो कि संसदीय सचिव नियुक्त किए गए थे, उनको दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश आने के बाद शुक्रवार को होने वाले दिल्ली विधान सभा के विशेष सत्र व भविष्य में होने वाले सत्रों में शामिल होने पर रोक लगाने की मांग की।

माकन ने कहा कि उन्हें बड़ी हैरानी हो रहा है कि यह कैसा विधान सभा का विशेष सत्र है, जिसमें न मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं और उनके ज्यादातर मंत्री, पार्टी नेता पंजाब, गुजरात और गोवा में व्यस्त हैं। माकन ने कहा कि केजरीवाल सरकार दिल्ली की जनता के साथ धोखा कर रही है क्योंकि यह वही केजरीवाल हैं जिन्होंने रामलीला मैदान से यह घोषणा की थी कि वे कभी दिल्ली की जनता को धोखा नहीं देंगे। कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष माकन ने कहा कि उन्होंने यह पत्र न सिर्फ दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के नाते नहीं लिखा है बल्कि दिल्ली विधान सभा के पूर्व अध्यक्ष के नाते भी लिखा है। माकन ने कहा कि शायद यह दिल्ली विधान सभा के इतिहास में पहली बार हुआ है जब बिना एजंडा तय किए विधान सभा का विशेष सत्र बुलाया जा रहा है।

प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में मीडिया को संबोधित करते हुए अजय माकन ने कहा कि 21 विधायकों को संसदीय सचिव बनाए जाने के आप पार्टी की दिल्ली सरकार के आदेश को गुरुवार को दिल्ली हाई कोर्ट ने निरस्त कर दिया। माकन ने कहा कि उन्हें बड़ी हैरानी हो रहा है कि यह कैसा विधान सभा का विशेष सत्र है, जिसमें न मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं। उनके ज्यादातर मंत्री पंजाब, गुजरात और गोवा में हैं। माकन ने कहा कि ये वही केजरीवाल हैं जिन्होंने रामलीला मैदान से यह घोषणा की थी कि वे कभी दिल्ली की जनता को धोखा नहीं देंगे और आम आदमी की तरह कार्य करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 GST की निचली दर से अनुपालन सुधरेगा, मुद्रास्फीति की आशंका दूर होगी: CEA
2 CBDT ने आयकर से जुड़ी शिकायतों के समाधान के लिए शुरु की Online सुविधा
3 Just Dial को प्रीपेड-वॉलेट के लिए RBI से मिली मंजूरी