ताज़ा खबर
 

404 फाइलों की समीक्षा कर शुंगलू कमेटी ने कहा- अरविंद केजरीवाल सरकार ने किया सत्ता का दुरुपयोग

इनमें से 36 मामलों में फैसले लंबित होने के कारण इनकी फाइलें सरकार को लौटा दी गई थीं।

Author नई दिल्ली | April 6, 2017 11:35 AM
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

दिल्ली की केजरीवाल सरकार द्वारा प्रशासनिक फैसलों में संविधान और प्रक्रिया संबंधी नियमों के उल्लंघन की बात शुंगलू समिति ने अपनी रिपोर्ट में उजागर की है। सितंबर 2016 में तत्कालीन उपराज्यपाल नजीब जंग द्वारा केजरीवाल सरकार के फैसलों की समीक्षा के लिए गठित शुंगलू समिति ने सरकार के कुल 440 फैसलों से जुड़ी फाइलों को खंगाला। इनमें से 36 मामलों में फैसले लंबित होने के कारण इनकी फाइलें सरकार को लौटा दी गई थीं।

पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक वीके शुंगलू की अध्यक्षता वाली समिति ने केजरीवाल सरकार के फैसलों से जुड़ी 404 फाइलों की जांच कर इनमें संवैधानिक प्रावधानों के अलावा प्रशासनिक प्रक्रिया संबंधी नियमों की अनदेखी किए जाने का खुलासा किया है। इसके लिए समिति ने सरकार के मुख्य सचिव, विधि एवं वित्त सचिव सहित अन्य अहम विभागीय सचिवों को तलब कर सरकार के इन फैसलों में संबद्ध अधिकारियों की भूमिका की भी जांच की है। रिपोर्ट में कहा गया है कि अधिकारियों ने समिति को बताया कि उन्होंने इस बाबत सरकार को अधिकार क्षेत्र के अतिक्रमण के बारे में समय समय पर आगाह किया था। इसके लिए कानून के हवाले से दिल्ली में उपराज्यपाल के सक्षम प्राधिकारी होने की भी बात सरकार को बताई। इतना ही नहीं, इसके गंभीर कानूनी परिणामों के प्रति भी सरकार को सहजभाव से आगाह किया। गया है।

 

वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी के लिए केजरीवाल गरीब क्लाइंट की तरह; कहा- "फीस नहीं दे पाए तो मुफ्त में लड़ूंगा मुकदमा"

दलाई लामा की अरुणाचल यात्रा का चीन ने किया विरोध; कहा- "दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों को होगा नुकसान"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App