ताज़ा खबर
 

सेक्स स्कैंडल में फंसे ‘आप’ के पूर्व मंत्री संदीप बोले- मैं दलित हूं इसीलिए मुझे फंसाया गया है

संदीप कुमार ने अपने आवास पर संवाददाताओं से कहा, ‘मैं वाल्मिकी समाज से हूं इसलिए मेरे खिलाफ साजिश रची गई है। इस मामले की जांच होनी चाहिए।'

Author नई दिल्ली | Updated: September 1, 2016 2:19 PM
‘आपत्तिजनक सीडी’ के सामने आने के बाद बर्खास्त किए गए दिल्ली सरकार के मंत्री संदीप कुमार। (पीटीआई फोटो)

‘आपत्तिजनक सीडी’ के सामने आने के बाद बर्खास्त किए गए दिल्ली सरकार के मंत्री संदीप कुमार ने गुरुवार (1 सितंबर) को आरोप लगाया कि वह दलित हैं इसलिए उन्हें ‘साजिश’ के तहत फंसाया जा रहा है। उन्होंने मामले की जांच की मांग की। कुमार ने अपने आवास पर संवाददाताओं से कहा, ‘मैं वाल्मिकी समाज से हूं इसलिए मेरे खिलाफ साजिश रची गई है। इस मामले की जांच होनी चाहिए। टीवी पर इस वीडियो के सामने आने से मुझे बहुत आघात पहुंचा है। यह सीडी प्रामाणिक नहीं है। इसकी सत्यता की जांच होनी चाहिए।’

सामाजिक कल्याण तथा महिला एवं बाल विकास मंत्री रह चुके संदीप कुमार से जब यह पूछा गया कि सीडी में नजर आ रहा शख्स क्या वही हैं तो उन्होंने कहा कि यह जांच का विषय है और सच्चाई सामने आनी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘मैं पार्टी का इकलौता दलित चेहरा हूं। दलित समुदाय के बीच मैं लोकप्रिय हूं इसीलिए मेरे खिलाफ साजिश की गई है। दूसरी राजनीतिक पार्टियां हमारे पीछे पड़ी हुई हैं क्योंकि हमारी पृष्ठभूमि राजनीतिक नहीं है।’

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीती रात अचानक ही कुमार को बर्खास्त कर दिया था। इसकी वजह वह सीडी थी जिसमें कुमार एक महिला के साथ ‘आपत्तिजनक स्थिति’ में नजर आ रहे हैं। छत्तीस वर्षीय मंत्री संदीप कुमार को हटाने का फैसला एक उच्च स्तरीय बैठक में लिया गया था। इस बैठक में आप के शीर्ष नेता शामिल हुए थे और उन्हें हटाने की घोषणा खुद केजरीवाल ने एक ट्वीट के जरिए की थी। बहरहाल, कुमार का कहना है कि उन्होंने नैतिकता के आधार पर खुद ही इस्तीफा दिया है।

उन्होंने कहा, ‘कोई कह रहा है कि यह वीडियो दो महीने पुराना है तो कुछ अन्य लोग कह रहे हैं कि यह तीन महीने पुराना है। इसकी कोई प्रामाणिकता नहीं है। दलितों का उत्पीड़न हमेशा ही किया जाता रहा है। मैं बहुत गरीब परिवार से हूं इसलिए जानता हूं कि तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है। मैं दलित हूं इसीलिए मुझे फंसाया गया है।’

कुमार ने मीडिया पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा, ‘मीडिया मेरा पक्ष जाने बगैर ही ये सारी चीजे दिखा रहा है। मेरा परिवार मेरे साथ है। मैं ऐसे विवादों से डरने वाला नहीं हूं। मैं एक ईमानदार व्यक्ति हूं और अपने समुदाय के लिए कुछ भी बलिदान करने को तैयार हूं।’ कुमार ने आगे कहा, ‘यह तो इस देश का इतिहास रहा है कि जब जब हमने आगे बढ़ने की कोशिश की, हमें दबाया गया। मेरे खिलाफ यह पूरी साजिश है और इसकी जांच होनी चाहिए। मैंने नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दिया है। अगर मीडिया इसे घुमा फिरा कर दिखाता है तो यह गलत बात है। मैं आप का सैनिक था और अब भी हूं, मैं पार्टी का नाम खराब नहीं होने दूंगा।’

Next Stories
1 अपनी पसंद के अफसरों से काम लेकर दिखाएं जंग: उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया
2 हाई कोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची आप सरकार
3 दिल्ली: जीटीबी हॉस्पिटल के डॉक्टर की संदिग्ध हालत में गिरने से मौत
ये पढ़ा क्या?
X