ताज़ा खबर
 

टैंकर घोटाला मामले में अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव तलब

एसीबी ने मंत्रीमंडल से बर्खास्त किए गए मंत्री कपिल मिश्र के विस्तृत बयान पिछले सप्ताह दर्ज किए थे। कपिल को आगे की पूछताछ के लिए सोमवार को तलब किया गया है।

Author नई दिल्ली | May 15, 2017 2:32 AM
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फोटो: PTI)

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने 400 करोड़ रुपए के टैंकर घोटाला मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव को तलब किया है। एसीबी ने मंत्रीमंडल से बर्खास्त किए गए मंत्री कपिल मिश्र के विस्तृत बयान पिछले सप्ताह दर्ज किए थे। कपिल को आगे की पूछताछ के लिए सोमवार को तलब किया गया है। एसीबी प्रमुख मुकेश कुमार मीणा ने बताया कि केजरीवाल के निजी सचिव बी. कुमार को मामले में पूछताछ के लिए बुधवार को बुलाया गया है। कपिल से सोमवार को दोबारा भी पूछताछ की जा सकती है। वह आम आदमी पार्टी को मिले चंदे में अनियमितताओं का ब्योरा देते वक्त संवाददाता सम्मेलन में बेहोश हो गए थे जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

कपिल केजरीवाल और उनके सहयोगियों की विदेश यात्राओं के विस्तृत विवरण की मांग करते हुए भूख हड़ताल पर हैं। एक अधिकारी ने कहा कि कपिल बीमार हैं और अगर वह सोमवार को बोलने की हालत में नहीं हुए तो वह मंगलवार को भी आ सकते हैं। कपिल का आरोप है कि केजरीवाल ने शीला दीक्षित के मुख्यमंत्रित्वकाल में हुए टैंकर घोटाला मामले की जांच को प्रभावित किया है।उनका आरोप है कि केजरीवाल और उनके ‘दो आदमियों’ की ओर से टैंकर घोटाला मामले की जांच में लगातार देरी की गई और उसे प्रभावित किया गया। पिछले वर्ष अगस्त में एसीबी ने टैंकर घोटाला मामले में शीला की कथित संलिप्तता के आरोपों में उनसे पूछताछ की थी और उन्हें 18 लिखित प्रश्नों का एक सेट भी दिया था। हालांकि कुछ दिन पहले तक कपिल इस मामले में भाजपा पर शीला को बचाने के आरोप लगाते रहें हैं लेकिन पिछले सप्ताह उन्होंने आरोप लगाया कि आप सरकार शीला को बचाने का प्रयास कर रही है।

HOT DEALS
  • I Kall Black 4G K3 with Waterproof Bluetooth Speaker 8GB
    ₹ 4099 MRP ₹ 5999 -32%
    ₹0 Cashback
  • MICROMAX Q4001 VDEO 1 Grey
    ₹ 4000 MRP ₹ 5499 -27%
    ₹400 Cashback

केजरीवाल सरकार ने स्टील के 385 पानी के टैंकरों की खरीद में अनियमितताओं को आरोपों की जांच के लिए जून 2015 को तथ्यान्वेशी समिति का गठन किया था। इसके बाद सरकार ने जून 2016 को तथ्यान्वेशी समिति की रिपोर्ट तत्कालीन उपराज्यपाल नजीब जंग को भेज दी थी जिसके बाद इस मामले में एफआइआर दर्ज की गई थी।

 

आप विवाद: पार्टी से निकाले गए मंत्री कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल को लिखी चिट्ठी- "जिस गुरु से सब सीखा, उसी के खिलाफ FIR दर्ज कराऊंगा"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App