ताज़ा खबर
 

दिल्ली लौटकर बोले स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन- चिकनगुनिया से मौतें नहीं होती, मीडिया ने बनाया इसे महामारी

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके डेंगू और चिकनगुनिया से हो रही मौतों पर अपनी बात रखी।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन। (फोटो-ANI)

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मंगलवार (13 सितंबर) को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके डेंगू और चिकनगुनिया से हो रही मौतों पर अपनी बात रखी। सत्येंद्र जैन ने बताया कि दिल्ली सरकार की तरफ से सारी तैयारियां वक्त रहते कर ली गईं थी लेकिन MCD और उपराज्यपाल (LG) नजीब जंग उनका साथ नहीं दे रहे हैं। सत्येंद्र जैन ने कहा कि MCD के कर्मचारी सफाई नहीं कर रहे जिसकी वजह से मच्छर पैदा हो रहे हैं। सत्येंद्र जैन ने यह भी कहा कि कई अधिकारियों को LG ने काम करने से रोका हुआ है। सत्येंद्र जैन ने नजीब जंग पर पूरे सिस्टम को नाकाम करने का आरोप भी लगाया। इसके अलावा सत्येंद्र जैन ने मीडिया को भी निशाने पर लिया। सत्येंद्र जैन के मुताबिक, डेंगू और चिकनगुनिया महामारी नहीं है लेकिन मीडिया उसे महामारी की तरह फैला रहा है। सत्येंद्र जैन से यह भी कहा कि चिकनगुनिया से किसी की मौत नहीं होती। इसके लिए उन्होंने मेडिकल साइंस के प्रमाण की भी बात की। मीडिया पर भड़कते हुए सत्येंद्र जैन ने यहां तक कह डाला कि दिल्ली पीएम मोदी और LG के भरोसे है।

दिल्ली वालों के नाम संदेश देते हुए सत्येंद्र जैन ने कहा, ‘चिकनगुनिया और डेंगू के 90 प्रतिशत केसों में इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती होने की जरूरत नहीं होती। अपनी मर्जी से हॉस्पिटल में भर्ती होने की ना सोचें। डॉक्टर के कहने पर ही भर्ती हों। वर्ना वहां भर्ती डेंगू के मरीज से आपको खतरा हो सकता है। अपनी मर्जी से कुछ भी दवाई भी ना लें। क्रोसीन जैसी दवाई बिल्कुल नहीं। बस ज्यादा पानी पिएं। तरह-तरह के जूस पिएं। मोहल्ला क्लीनिक में जाकर इलाज करवाएं। पिछले साल हमने 1.50 लाख लोगों को भर्ती करवाया जबकि 2 या तीन प्रतिशत लोगों को ही डेंगू था।’

सत्येंद्र जैन आज ही दिल्ली लौटकर आए हैं। वह गोवा गए हुए थे। मिली जानकारी के मुताबिक, वह वहां आने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी के लिए गए थे।

Read Also: दिल्ली में चिकिनगुनिया से पहली मौत, पत्रकार ने उठाया सवाल तो ऐसे भड़के केजरीवाल

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App