ताज़ा खबर
 

दिल्ली: मानसिक रूप से बीमार किशोरी से बलात्कार

पुलिस ने बलात्कार और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर आरोपी 21 साल के ताराचंद और पुरुष किन्नर 20 साल के निशा को गिरफ्तार किया है।

Author नई दिल्ली | February 5, 2017 3:27 AM
स्कूल टीचर ने नाबालिग छात्रा को हवस का शिकार बनाने की कोशिश की। (Representative Image)

अशोक विहार इलाके में मानसिक रूप से बीमार नाबालिग से सामूहिक बलात्कार का मामला सामने आया है। पुलिस ने बलात्कार और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर आरोपी 21 साल के ताराचंद और पुरुष किन्नर 20 साल के निशा को गिरफ्तार किया है।  15 साल की पीड़िता परिवार के साथ अशोक विहार में रहती है। उसके घर के पास ही पुरुष किन्नर निशा का घर है। उसका रिश्तेदार सावन पार्क निवासी ताराचंद उससे मिलने अक्सर निशा के घर आता था। शुक्रवार देर रात पुलिस को दो पक्षों में झगड़े की सूचना मिली। मौके पर पहुंची पुलिस को पीड़िता की मां ने बताया कि उसकी बेटी के साथ निशा और ताराचंद ने बलात्कार किया है। पीड़िता की मां ने पुलिस को बताया कि छह भाई-बहनों में पीड़िता मानसिक रूप से बीमार है। वह शाम को घर से निकली थी। काफी देर बाद भी नहीं लौटी तो परिवार के लोगों ने इधर-उधर खोजना शुरू किया। देर रात पीड़िता की चप्पल उसकी मां को आरोपी के घर के सामने दिखी। मां ने आरोपी निशा से अपनी बेटी के बारे में पूछा तो उसने घर में उसके होने से इनकार किया।

पीड़िता की मां ने घर दिखाने के लिए कहा तो दोनों आरोपियों ने उसका विरोध शुरू कर दिया। जब उसकी मां घर में पहुंची तो पीड़िता कमरे में कंबल पर लेटी हुई थी। उसने बताया कि दोनों ने उसके साथ गलत हरकत की है। पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल कराया। जिसमें बलात्कार की पुष्टि होने के बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया।उधर, वसंत विहार इलाके में शुक्रवार तड़के तीन बजे काम खत्म कर घर लौट रही युवती को स्कूटी से खींचकर बलात्कार के आरोपियों को जेल भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। आरोपी उसे एक निर्माणाधीन मकान में ले गया था और वहां युवती के साथ सामूहिक बलात्कार किया।

मेडिकल जांच में युवती के साथ बलात्कार की पुष्टि हुई है। वसंत विहार थाना पुलिस बलात्कार का मामला दर्ज कर जांच कर रही है। पुलिस के मुताबिक 34 साल की युवती हौजखास इलाके में स्थित एक बार में काम करती है और मुनिरका में रहती है। शुक्रवार तड़के करीब तीन बजे वह स्कूटी से अपने घर लौट रही थी। जब वह मुनिरका में घुसी तो दो युवकों ने उसे स्कूटी से खींच लिया। आरोपी उसे पास स्थित एक निर्माणाधीन मकान में ले गए और वहां उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। वसंत विहार पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया और फिर जेल भेज दिया है।  सिविल लाइंस इलाके में आरोप है कि दस साल की बच्ची से उसके सौतेले पिता ने बलात्कार किया। बच्ची के बयान पर सिविल लाइंस पुलिस ने आरोपी पिता के खिलाफ पास्को व बलात्कार की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस के मुताबिक, बच्ची मजनू का टीला इलाके में परिवार के साथ रहती है।

 

गुड़गांव: टैंक में पड़ा मिला 10 साल की बच्ची का शव, डॉक्टर ने कहा- रेप हुआ

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App