ताज़ा खबर
 

अमित शाह के बेटे पर लगे आरोप के बचाव में उतरे राजनाथ, कहा- आरोप बेदम, जांच की जरूरत नहीं

सिंह ने यहां राष्ट्रीय जांच एजंसी (एनआइए) के नए मुख्यालय का उद्घाटन करते हुए कहा कि इस तरह के आरोप कई बार लगाए गए हैं। इनका कोई आधार नहीं है।

Author वड़ोदरा/नई दिल्ली | October 11, 2017 11:58 AM
राजनाथ सिंह

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के बेटे के खिलाफ लगे आरोप निराधार हैं और इसमें किसी भी जांच की कोई जरूरत नहीं है। सिंह ने यहां राष्ट्रीय जांच एजंसी (एनआइए) के नए मुख्यालय का उद्घाटन करते हुए कहा कि इस तरह के आरोप कई बार लगाए गए हैं। इनका कोई आधार नहीं है।  न्यूज पोर्टल ‘द वायर’ ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि 2014 में भाजपा के सत्ता में आने के बाद से शाह के बेटे जय अमित शाह की एक फर्म के कारोबार में एकाएक बढ़ोतरी हुई है। इसके बाद कांग्रेस ने भाजपा अध्यक्ष पर चौतरफा हमला शुरू कर दिया था।
कार्यक्रम में एनआइए की तारीफ करते हुए गृहमंत्री ने कहा कि घाटी में अशांति फैलाने के लिए पड़ोसी देश से धन के प्रवाह पर राष्ट्रीय जांच एजंसी की कार्रवाई से आतंकवादी और अलगाववादी समूहों के मनोबल को आघात पहुंचा है। उन्होंने कहा कि कोई भी सभ्य देश अपनी सरजमीं से आतंकवाद को फलने फूलने देना स्वीकार नहीं कर सकता है। कश्मीर घाटी में आतंकवादी गतिविधियों के वित्तपोषण के लिए जिम्मेदार देश के तौर पर पाकिस्तान का नाम लिए बिना सिंह ने कहा – एनआइए द्वारा हमारे पड़ोसी देश से राज्य में आतंकवादी गतिविधियों के वित्तपोषण के लिए धन के प्रवाह पर की गई कार्रवाई से आतंकवादियों और अलगाववादियों के मनोबल को आघात पहुंचा है।

एनआइए ने आतंकवादी गतिविधियों और धन के प्रवाह पर अपनी जांच इस साल जून में शुरू की थी और विभिन्न स्थानों पर छापेमारी की थी। एजंसी ने अब तक हुर्रियत कांफ्रेंस के चरमपंथी धड़े के नेता सैयद अली शाह गिलानी के दामाद अल्ताफ शाह उर्फ फंटूश और एक प्रभावशाली व्यापारी जहूर वाताली समेत 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। गृह मंत्री ने कहा कि सेना, अर्द्धसैनिक बलों और अन्य सुरक्षा एजंसियों के लगातार प्रयासों की वजह से पांच से छह आतंकवादी जम्मू कश्मीर में प्रतिदिन मारे जाते हैं। राजनाथ ने कहा कि आतंकवाद के मामलों में साक्ष्य एकत्र करना चुनौतीपूर्ण काम है फिर भी एनआइए के प्रयासों से इस तरह के 95 फीसद मामलों में आरोपी दोषी साबित होते हैं। जाली नोटों की समस्या का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि जाली मुद्रा आतंकवाद को बढ़ाने में सहयोग करती है और उच्च मूल्य वाले जाली नोट आतंकवाद के लिए आॅक्सीजन का काम करते हैं।  आतंकवाद को विकास की राह में बाधा बताते हुए उन्होंने कहा कि राजग सरकार ने इस समस्या से निपटने के लिए कई कदम उठाए हैं। इसमें अंतरराष्ट्रीय मंचों पर इस मुद्दे को उजागर करना भी शामिल है। गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय को एक साथ लाने में सफल रहे हैं। उन्होंने कहा, एनआइए ने पिछले आठ वर्षों में पेशेवर और वैज्ञानिक जांच के जरिए अपनी विश्वसनीयता और निष्पक्षता स्थापित की है। इससे पहले कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एनआइए के महानिदेशक शरद कुमार ने कहा कि 2009 में संगठन की स्थापना के बाद से एनआइए को जांच के लिए कुल 166 मामले सौंपे गए हैं।

 

अब ‘बेटा बचाओ’ में लगी सरकार : राहुल

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा पर आरोप लगाया कि वे महिलाओं को सम्मान नहीं देते और सवाल किया कि संघ की शाखाओं में कितनी महिलाएं नजर आईं। उन्होंने कहा कि इसके विपरीत कांग्रेस में हर स्तर पर महिलाएं काम करती हैं।  गांधी ने गुजरात में अपने चुनाव अभियान के दूसरे दिन यहां छात्रों की एक सभा को संबोधित करते हुए कहा, भाजपा की सोच है कि जब तक महिलाएं शांत हैं, तब तक वे अच्छी हैं, लेकिन जब वे बोलने लगती हैं तब भाजपा उनका मुंह बंद करने का प्रयास करती है। उन्होंने व्यंग्यपूर्ण लहजे में कहा कि उनका संगठन आरएसएस है। आरएसएस में कितनी महिलाएं हैं। क्या आपने कभी किसी महिला को शाखा में निक्कर पहने देखा है? उन्होंने कहा- कांग्रेस में आप संगठन में हर स्तर पर महिलाएं देखेंगे। राहुल गांधी ने यह भी कहा कि यदि गुजरात में उनकी पार्टी की सरकार आती है तो वह महिलाओं को महत्त्व देगी और उनके मुद्दे सुलझाएगी। कांग्रेस नेता ने छात्रों को संबोधित कर वड़ोदरा से मध्य गुजरात में नवसृजन बाकी  यात्रा का दूसरा दिन शुरू किया। उन्होंने सोमवार को दस सभाओं को संबोधित किया था और नादियाड़ में प्रसिद्ध संतराम मंदिर में प्रार्थना की थी।

पिछले महीने यात्रा के पहले चरण में गांधी ने सौराष्ट्र की यात्रा की थी। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के पुत्र की कंपनी के कारोबार में भारी बढ़ोत्तरी से जुड़ी खबर के मामले में चुटकी लेते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि सरकार ‘बेटी बचाओ’ से आगे बढ़ते हुए ‘बेटा बचाओ’ में बदल गई है। राहुल गांधी ने ट्विटर पर कहा, बेटी बचाओ से, बेटा बचाओ के रूप में आश्चर्यजनक बदलाव। उन्होंने ‘पीयूष गोयल ने जय शाह’ के कारोबारी लेनदेन का बचाव किया’ शीर्षक से रिपोर्ट को भी अपने ट्वीट के साथ जोड़ा । राहुल ने सवाल किया, उसे लोन किसने दिया। फिर खुद ही जवाब में कहा, वह मंत्री पीयूष गोयल के मातहत केंद्र सरकार का एक विभाग था। उन्होंने कहा कि कंपनी 2016 में बंद हो गई । कांग्रेस उपाध्यक्ष ने यह भी जानना चाहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने इस मुद्दे पर अब तक कुछ क्यों नहीं बोला। जय शाह ने इस रिपोर्ट के मुद्दे पर अहमदाबाद की एक अदालत में खबरिया वेबसाइट के खिलाफ मानहानि का केस दायर किया है ।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App