ताज़ा खबर
 

दिल्ली रेलवे स्टेशन के गिनती के काउंटरों से कैसे मिले घर जाने का टिकट

मंगलवार की शाम 4 बजे तक अजमेरी गेट की तरफ 32 में से कुल सात जनरल टिकट काउंटर ही खुले थे।
Author नई दिल्ली | October 26, 2016 04:26 am
रेलवे।

त्योहारों का मौसम आने के साथ ही ट्रेनों में भीड़ बढ़ जाती है। परिवार से दूर रहने वाले लोग घर पहुंचने के लिए अमूमन ट्रेन यात्रा को तरजीह देते हैं क्योंकि यह सुविधाजनक होने के साथ ही सस्ती भी पड़ती है। दीपावली और उसके बाद पड़ने वाले छठ के त्योहार को लेकर नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर क्या तैयारी की जा रही है। इसकी जब पड़ताल की गई तो रेलवे के दावे गलत साबित होते नजर आए।

दीपावली नजदीक होने के कारण लोग अपने घर पहुंचने को बेताब हैं लेकिन रेलवे स्टेशन पर किस तरह के इंतजाम हैं, इसका अंदाजा टिकट काउंटर खुलने का समय और उनकी संख्या देखकर ही लग गया। मंगलवार की शाम 5 बजे तक अजमेरी गेट के 32 जनरल टिकट काउंटरों में से सिर्फ 13 काउंटर ही खुले थे। शाम की पाली के कुछ काउंटर 4.10 बजे खुलने थे, लेकिन वे 4.30 बजे के बाद ही खुले। आलम यह है कि केवल स्टेशन के भीतर जाने के लिए लोगों की लंबी कतार लगी थी। कतार में खड़े लोगों में से जिन लोगों का रिजर्वेशन था, वे तो सीधे प्लेटफार्म पर निकल जाते थे, लेकिन जिन लोगों के पास आरक्षित टिकट नहीं था, उनको स्टेशन की पहली मंजिल पर स्थित जनरल टिकट काउंटर पर जाना पड़ता था। वहां पहुंचने के बाद काउंटरों पर लगी लंबी कतार देखकर किसी को भी पसीने आना स्वाभाविक है।

रेलवे बजट से जुड़े पांच रोचक तथ्य

वहीं दूसरी तरफ मंगलवार की शाम 4 बजे तक अजमेरी गेट की तरफ 32 में से कुल सात जनरल टिकट काउंटर ही खुले थे। उसी में से किसी काउंटर पर कम भीड़ देखकर लोग खड़े हो जाते थे। लोगों ने बताया कि अब तक किसी का टिकट खरीदने का नंबर डेढ़ घंटे से पहले नहीं आया। हालांकि स्टेशन पर 4.10 बजे के बाद कुछ नए काउंटर खुलने की भी व्यवस्था है। स्टेशन के अजमेरी गेट वाले छोर की ओर जनरल टिकट का पहला 17 नंबर का काउंटर 4.30 बजे खुला। इसके बाद 4.45 बजे तक 19, 20 व 21 नंबर के काउंटर खुले। सबसे अंत में 5 बजे 22 व 23 नंबर के काउंटर खुले, जो अपने तय समय से 50 मिनट देरी से खुले थे, जबकि इन काउंटरों को 4,10 बजे तक किसी भी हालत में खुल जाना चाहिए था। 5.15 बजे तक अजमेरी गेट की तरफ 32 में से 13 जनरल टिकट काउंटर ही खुले थे। वहीं हर काउंटर पर यात्रियों की बढ़ती भीड़ के बीच स्टेशन पर अफरा-तफरी का माहौल था। किसी की ट्रेन छूट रही थी तो कोई कतार में खड़े-खड़े थक गया था।

इसी बीच 16 नंबर काउंटर दो लोगों के बीच बहस हो गई क्योंकि एक व्यक्ति बिना लाइन में टिकट लेने की कोशिश कर रहा था। कम और देरी से टिकट काउंटर खुलने के बारे में जब नई दिल्ली स्टेशन के चीफ स्टेशन मैनेजर आरपी पांडेय से पूछा गया तो उनका कहना था कि अभी कुछ लोग और आ रहे हैं। हालांकि देरी के सवाल पर उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। टिकट काउंटरों पर ढीली-ढाली व्यवस्था की पड़ताल को लेकर जब शिफ्ट इंचार्ज से पूछा गया तो उनका कहना था कि कुछ देर पहले तीन कर्मचारियों के बीमार होने का फोन आया है। उनकी जगह दूसरे लोगों की साप्ताहिक छुट्टी रद्द करके उन्हें बुलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आधे घंटे में ज्यादातर काउंटर खुल जाएंगे। वहीं पिछले दिनों काउंटर खुलने की जानकारी मांगने पर उन्होंने बताया कि 21 तारीख को 19, 22 तारीख को 27, 23 तारीख को 26 और 24 तारीख को 24 काउंटर खुले थे। उन्होंने कहा कि कई कर्मचारी दूर-दूराज से आते हैं इसलिए आने में देर हो जाती है। उन्होंने उम्मीद जताई कि पौने छह बजे तक 25 से ज्यादा काउंटर खोल दिए जाएंगे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.