ताज़ा खबर
 

जन्मदिन की बधाई देने आडवाणी के घर गए मोदी, कांग्रेस बोली- आपकी जगह मार्गदर्शक मंडल में नहीं

लालकृष्ण आडवाणी गुरुवार को 91 वर्ष के हो गए। उनका जन्म 1927 में कराची में हुआ था, जो अब पाकिस्तान में है।

आडवाणी के जन्मदिन के मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी के अलावा कई बड़े नेताओं ने उन्हें शुभकामनाएं दीं। पीएम आडवाणी से मिलने भी गए। (ट्विटर फोटो)

बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी गुरुवार (8 नवंबर, 2018) को 91 वर्ष के हो गए। उनके जन्मदिन के मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी के अलावा कई बड़े नेताओं ने उन्हें शुभकामनाएं दीं। पीएम आडवाणी से मिलने भी गए। पीएम ने टि्वटर पर कहा कि देश के विकास में आडवाणी का बड़ा योगदान है। बता दें कि आडवाणी का जन्म 1927 में कराची में हुआ था, जो अब पाकिस्तान में है। हालांकि, कर्नाटक के पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता सिद्दारमैया ने जन्मदिन की बधाई देने के बहाने बीजेपी को निशाने पर लिया। उन्होंने ट्वीट करके कहा कि आडवाणी की जरुरत मार्गदशक मंडल में नहीं जहां उनकी उम्र और अनुभव का सम्मान नहीं है। सिद्दारमैया के मुताबिक, देश के लोकतंत्र को बचाने के लिए आडवाणी के मार्गदर्शन की जरुरत है।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आडवाणी को लाखों कार्यकर्ताओं का प्रेरणास्रोत बताया। राजनाथ ने उनकी लंबी आयु और स्वास्थ्य की कामना की। केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, असम के सीएम सर्वानंद सोनोवाल के अलावा बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने भी आडवाणी को जन्मदिन की बधाई दी। बता दें कि आडवाणी अब सार्वजनिक जीवन में बहुत कम सक्रिय हैं। पार्टी की गतिविधियों में भी वह अब कम नजर आते हैं। हाल ही में गुजरात में स्टैचू ऑफ लिबर्टी के उद्घाटन के दौरान भी आडवाणी नजर नहीं आए थे। इसके अलावा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी आडवाणी को जन्मदिन की बधाई दी।

शाह ने अपने ट्वीट में कहा कि आडवाणी ने भाजपा के संगठन को मजबूत किया, इसके कार्यकर्ताओं को प्रेरित किया और साथ ही उन्हें अनुशासन भी सिखाया। उन्होंने कहा, ‘जनसंघ से भाजपा तक हमारी विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाने और संसद में एक कुशल राजनेता के तौर पर भारत को प्रगति पथ पर ले जाने में, भारतीय राजनीति में आडवाणी जी का योगदान अतुलनीय है।’  केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के पूर्व अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने आडवाणी को भारतीय राजनीति का पितामह करार दिया। राजनाथ ने कहा, ‘उन्होंने भाजपा की शुरुआत के वक्त से ही इसे सींचा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App