ताज़ा खबर
 

सवाल-जवाब: मोदी का और मुस्कराने का वादा, लोगों से ट्विटर पर रूबरू हुए प्रधानमंत्री

रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर लोगों से मुखातिब हुए। उन्होंने लोगों के सवालों के जवाब दिए। मोदी के जवाब कई दफा रीट्वीट किए गए।

Author नई दिल्ली, 22 जुलाई। | July 23, 2018 5:36 AM
विवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर लोगों से मुखातिब हुए।(express photo)

रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर लोगों से मुखातिब हुए। उन्होंने लोगों के सवालों के जवाब दिए। मोदी के जवाब कई दफा रीट्वीट किए गए। कई ट्वीट करने वालों में से कई ने अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान में मिली जीत के लिए प्रधानमंत्री को बधाई दी। ट्विटर पर मुंबई की एक महिला शिल्पी अग्रवाल ने मोदी को लिखा, ‘केवल एक बात मोदी जी, आपको और अधिक मुस्कराना चाहिए। बाकी सब मस्त है।’ इसपर जवाब स्माइली के साथ देते हुए प्रधानमंत्री ने लिखा, ‘प्वाइंट टेकन।’ इस पर शिल्पी के मित्रों और जानने वालों की ओर से उन्हें बधाई देने वालों का तांता लग गया।

उनके ट्वीट को कई बार रीट्वीट किया गया। एक मित्र ने कहा, ‘बधाई हो शिल्पी, आपको ‘सबसे शक्तिशाली प्रधानमंत्री’ ने जवाब दिया है।’ एक अन्य ट्वीट में 60-70 साल की आयु में अनथक परिश्रम की सराहना किए जाने का उत्तर देते हुए मोदी ने कहा कि सवा सौ करोड़ भारतीयों का आशीर्वाद बहुत शक्ति देता है। मेरा पूरा समय राष्ट्र के लिए ही है। एक महिला शोभा शेट्टी के संदेश में मोदी को कर्मयोगी कहा गया तो उन्होंने जवाब में लिखा- आपके उदार शब्दों के लिए धन्यवाद। अनुभव चतुर्वेदी ने ट्वीट किया कि अविश्वास प्रस्ताव के दौरान उनके भाषण से उन्हें अपने दादा की याद आ गई, जिनका पिछले दिनों निधन हो गया। अनुभव ने लिखा कि वह और उनके दादा, मोदी के भाषणों को साथ में देखा करते थे। इस पर मोदी ने लिखा कि आपके दादा जी के बारे में सुनकर दुख हुआ। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं आपके साथ हैं।

गणेश शंकर ने ट्वीट किया, ‘अविश्वास प्रस्ताव पर देर रात तक भाषण देने के बाद अगले दिन 12 बजे आपको शाहजहांपुर में किसानों को संबोधित करते देखा। वाह! 60-70 की उम्र में भी मोदी पर थकान नहीं दिखती।’ इसका जवाब देते हुए प्रधानमंत्री ने लिखा कि 125 करोड़ भारतीयों की दुआ ही उनकी ताकत है। उनका पूरा समय देश के लिए है।

मैं चमत्कृत हूं

अनंत सुब्रमण्यम ने प्रधानमंत्री को ट्वीट कर अपनी बेटी का एक लेख भेजा, जो ‘स्वच्छ भारत’ पर था। वह आलेख बच्ची के स्कूल की पत्रिका में भी छपा है। प्रधानमंत्री ने उसे रीट्वीट करते हुए लिखा, ‘इसे पढ़कर खुशी हुई। कृपया उसे मेरी तरफ से बधाई दीजिएगा, मैं चमत्कृत हूं कि हमारे बच्चों में स्वच्छता को लेकर इतनी अधिक जागरूकता और उत्साह है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App