ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी ने इमरान खान को फोन पर दी बधाई, पाक में लोकतंत्र मजबूत होने की जताई उम्मीद

पाकिस्तान में हुए हालिया आम चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के मुखिया व पूर्व क्रिकेटर इमरान खान पाकिस्तान के अगले प्रधानमंत्री बनने वाले हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जारी किए गए एक बयान के अनुसार मोदी ने पाकिस्तान में लोकतंत्र की जड़ें गहरी होने की उम्मीद जतायी है।

पाकिस्तान में हुए हालिया आम चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के मुखिया व पूर्व क्रिकेटर इमरान खान पाकिस्तान के अगले प्रधानमंत्री बनने वाले हैं। इमरान की पार्टी ने सत्ताधारी पीएमएल-एन को हराकर सरकार बनाने की दावेदारी हासिल की है। मीडिया की खबरों की मानें तो इमरान खान 11 अगस्त को पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ले सकते हैं। इस बीच भारत के प्रधानमंत्री ने अपने संभावित पाकिस्तानी समकक्ष से फोन पर बात कर उन्हें जीत की बधाई दी है। प्रधानमंत्री मोदी ने पीटीआई सुप्रीमो इमरान खान को हालिया आम चुनावों में उनकी पार्टी के नेशनल असेंबली में सबसे बड़े राजनीतिक दल के रूप में उभरने पर बधाई दी है।

प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जारी किए गए एक बयान के अनुसार मोदी ने पाकिस्तान में लोकतंत्र की जड़ें गहरी होने की उम्मीद जतायी है। बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री ने पूरे क्षेत्र में शांति एवं विकास का अपना विजन भी दोहराया है। 25 जुलाई को पाकिस्तान में हुए नेशनल असेंबली के चुनाव के परिणामों में बढ़त मिलने के एक दिन बाद पीटीआई प्रमुख ने इमरान खान ने भी अपने भाषण में भारत पर टिप्पणी की थी। इसमें उन्होंने भारत से बातचीत की पक्षधरता की अपनी मंशा जाहिर की थी। इमरान ने कहा था कि दोनों देशों को अधिक से अधिक व्यापार करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा था कि अगर बातचीत के लिए भारत एक कदम आगे आता है तो वो दो कदम आएंगे।

 

दोनों देशों के नेताओं के बीच हुई बातचीत भारत के पाकिस्तान से रिश्तों में सुधार की ओर सकारात्मक संकेत है। ज्ञात हो कि इमरान खान पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस(14 अगस्त) से पहले प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। हालांकि, इमरान की पार्टी सरकार बनाने के लिए निर्धारित नशिस्तों का आंकड़ा पूरा नहीं करती लेकिन पार्टी के पक्ष में निर्दलीयों तथा अन्य दलों का समर्थन हासिल करने के लिए इमरान अपनी कोशिश शुरू कर चुके हैं। बता दें कि हालिया चुनाव में इमरान खान की पार्टी ने 116 सीटों पर जीत दर्ज की थी। पाकिस्तान में हुकूमत बनाने के लिए 137 सीटों का आंकड़ा होना जरूरी है। इमरान की पार्टी इन आंकड़ों से 21 सीटें दूर है।

(‘भाषा’ इनपुट के साथ)

Next Stories
1 अजब चोर का गजब खुलासाः 63 की उम्र में रखता है 5 गर्लफ्रेंड, खर्च जुटाने के लिए बना चोर
2 इमाम बुखारी ने राहुल गांधी को लिखी चिट्ठी- कहा, आज जो मुसलमानों की हालत है, 70 सालों में ऐसा नहीं हुआ
3 IRCTC Train Cancelled List: दिल्ली के ‘लोहा पुल’ से गुजरने वाली 27 ट्रेनें कैंसिल, यहां देखें पूरी लिस्ट
ये पढ़ा क्या?
X