ताज़ा खबर
 

पुलिस ने सभी दुकानें कराईं बंद

लाल किला के सामने भागीरथ प्लेस और चांदनी चौक की ओर जाने वाले मार्ग पर कई दुकानें और दफ्तर हैं। निषादराज मार्ग पर भी ट्रांसपोर्टर्स और वाहनों की मरम्मत की करीब 50 दुकानें हैं।

प्रदर्शन के चलते पर्यटकों को खासी दिक्कतें हुईं।

निर्भय कुमार पांडेय

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ लाल किला के आसपास सुबह से ही नेता, विद्यार्थी, सामाजिक कार्यकर्ता और राजनीतिक दल से जुड़े कार्यकर्ता पहुंचने लगे थे। धारा 144 लागू होने और सुरक्षा को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने जब प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा और उनमें से कुछ को हिरासत में लिया तो प्रदर्शनकारी सुनहरी मस्जिद के पास निषादराज मार्ग पर धरने पर बैठ गए। इस कारण आसपास में रहने वाले स्थानीय निवासियों और बाहर से आने वाले पर्यटकों को खासी दिक्कतें हुर्इं।इन इलाकों में व्यावसायिक गतिविधियों का संचालन किया जाता है।

लाल किला के सामने भागीरथ प्लेस और चांदनी चौक की ओर जाने वाले मार्ग पर कई दुकानें और दफ्तर हैं। निषादराज मार्ग पर भी ट्रांसपोर्टर्स और वाहनों की मरम्मत की करीब 50 दुकानें हैं। सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस ने सभी दुकानें और दफ्तर बंद करवा दिए गए थे। इससे जहां एक ओर यहां काम करने वाले कर्मचारियों और मालिकों को परेशानी हुई।

वहीं, लाल किला और चांदनी चौक घूमने आने वाले पर्यटक भी पुलिस की बैरिकेडिंग की वजह से इधर-उधर भटकते हुए दिखे। ओड़ीशा से आए रमेश पात्रा ने बताया कि इन दिनों सर्दी की छुट्टियां पड़ी हुई हैं। वह अपने परिवार के साथ दिल्ली घूमने आए हैं। उन्होंने गुरुवार को चांदनी चौक घूमने की योजना बनाई थी। पर रिंग रोड पर उनकी कैब पुलिस ने रोक दी और बताया कि इससे आगे वह नहीं जा सकते। आगे प्रदर्शन किया जा रहा है।

Next Stories
1 आइटीओ बस पड़ाव से मुफ्त वाईफाई की शुरुआत
2 दिल्ली में CAA के खिलाफ जबर्दस्त प्रदर्शन, Airtel के चेयमैन बोले- सरकार से आदेश मिलने के बाद बंद की मोबाइल इंटरेनट सर्विस
ये पढ़ा क्या ?
X