ताज़ा खबर
 

जब पीएम नरेंद्र मोदी बोले- योगी जी भी कम खिलाड़ी नहीं हैं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब युवा अगड़ाई लेते हैं तो इतिहास अपने आप बदलता है।
राष्ट्रीय युवा उत्सव के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने ली चुटकी।(फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को राष्ट्रीय युवा उत्सव के उद्घाटन समारोह को संबोधित किया। ग्रेटर नोएडा के गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय में आयोजित इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम ने राजनीतिक संदेश भी दिया। पीएम ने इस कार्यक्रम में राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ को खिलाड़ी कहा। पीएम ने कहा, ‘योगी जी भी कम खिलाड़ी नहीं हैं, कई राज्यों में बहुत लोगों के साथ हमारे योगी जी ट्विटर-ट्विटर का खेल खेल रहे हैं, और ट्विटर के खेल में भी अच्छे-अच्छे खिलाड़ियों को उन्होंने परास्त कर दिया है।’ पीएम द्वारा योगी को खिलाड़ी कहने की वजह हम आपको बताते हैं। दरअसल योगी आदित्यनाथ हाल में कर्नाटक दौरे पर थे। कर्नाटक में इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं। योगी जब कर्नाटक पहुंचे तो वहां के सीएम सिद्धारमैया ने उन पर ट्विटर के जरिये तंज हमला बोला। कर्नाटक सीएम ने भुखमरी और गोरखपुर में बच्चों की मौत को लेकर योगी आदित्यनाथ को घेरा तो योगी आदित्यनाथ ने कर्नाटक में किसानों की आत्महत्या और अधिकारियों के ट्रांसफर के मामले पर उनसे सवाल किया। पीएम मोदी ट्विटर पर योगी आदित्यनाथ की सक्रियता को सकारात्मक मानते हैं।

पीएम मोदी ने इस मौके पर राष्ट्र निर्माण में युवाओं के योगदान की तारीफ की। प्रधानमंत्री ने कहा है कि देश के युवा ऊर्जा का प्रतीक हैं। उन्होंने कहा कि एक भारत और श्रेष्ठ भारत का आज ग्रेटर नोएडा में साक्षात दर्शन हो रहा है जिसको लेकर वह काफी उत्साहित हैं। पिछले एक महीने से भी कम समय में तीसरी बार नोएडा आये उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर कहा कि आज स्वामी विवेकानंद की जयंती है। यह रेखांकित करते हुए कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत दुनिया का सबसे युवा राष्ट्र है। हमारे युवाओं ने अपनी कड़ी मेहनत व ऊर्जा के जरिये हर क्षेत्र में अपनी पहचान बनायी है। उन्होंने युवाओं से अपील की कि वह प्रधानमंत्री के संकल्प को पूरा करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब युवा अगड़ाई लेते हैं तो इतिहास अपने आप बदलता है। उन्होंने कहा कि भारत गंदगी, गरीबी, दरिद्रता, भ्रष्टाचार, नक्सलवाद, अत्याचार, भेदभाव व आतंकवाद से मुक्त हो। ऐसा भारत बनाने का संकल्प हमें लेना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.