ताज़ा खबर
 

‘उठो, उठो, उठो’ जब पीएम मोदी ने उतारी राहुल गांधी की नकल, देखें वीडियो

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, ‘‘आप तो नामदार है, मैं तो कामगार हूं। हम आपकी आंखों में आंख कैसे डाल सकते हैं।’’ उन्होंने कहा कि आंखों का खेल पूरे देश ने देखा है। आंखों की बात करके ‘‘आंख की हरकत’’ पूरे देश ने देखी है। आंखों की बात करके सत्य को पूरी तरह से कुचला गया है।

शुक्रवार 20 जुलाई को लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (LSTV GRAB via PTI)

शुक्रवार रात को लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान पीएम मोदी ने तमाम मुद्दों पर चर्चा की। इस दौरान पीएम ने राहुल गांधी पर पर विशेष निशाना साधा। राहुल द्वारा पीएम को गले लगाने फिर बाद में अपने साथी सांसद को आंख मारने पर पीएम ने उनकी आलोचना की। पीएम ने घटना का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘उनका एक ही मकसद है मोदी हटाओ। मैं हैरान हूं कि सुबह चर्चा शुरू हुई थी, मतदान भी नहीं हुआ था, जय पराजय का फैसला भी नहीं हुआ था लेकिन उन्हें यहां पहुंचने का इतना उत्साह है कि आकर (मुझसे) बोले, उठो उठो।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यहां कोई न उठा सकता है, न बैठा सकता है। सवा सौ करोड़ देशवासियों ने बैठाया है। सवा सौ करोड़ देशवासी उठा सकते हैं। इतनी जल्दबाजी क्या है।’’ मोदी ने कहा, ‘‘उनका एक ही मकसद है, मैं ही प्रधानमंत्री बनूंगा। इसके लिए कम से कम अविश्वास प्रस्ताव का बहाना तो न बनाइए।’’ मोदी ने राहुल को आड़े हाथ लेते हुए कहा, ‘‘अहंकार ही कहता है कि हम खड़े होंगे तो प्रधानमंत्री 15 मिनट तक खड़े नहीं हो पाएंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं खड़ा भी हूं और चार साल जो काम किये हैं, उस पर अड़ा भी हूं।’’ उन्होंने कहा कि वह चौकीदार भी हैं और भागीदार भी लेकिन सौदागर और ठेकेदार नहीं हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ‘‘आंखों में आंखें नहीं डाल पाने’’ संबंधी टिप्पणी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुटकी लेते हुए कहा कि ‘‘एक गरीब मां का बेटा, पिछड़ी जाति से आने वाला नरेन्द्र मोदी ऐसा साहस कैसे कर सकता है?’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि देश ने देखा है कि आंखों में आंख डालने पर सुभाष चंद्र बोस के साथ क्या हुआ, चौधरी चरण सिंह के साथ क्या हुआ, जय प्रकाश नारायण के साथ क्या हुआ, मोरारजी देसाई के साथ क्या हुआ, सरदार वल्लभ भाई पटेल के साथ क्या हुआ ? उन्होंने कहा कि आंख में आंख डालने वालों को ठोकर मारकर बाहर कर दिया गया। राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, ‘‘आप तो नामदार है, मैं तो कामगार हूं। हम आपकी आंखों में आंख कैसे डाल सकते हैं।’’ उन्होंने कहा कि आंखों का खेल पूरे देश ने देखा है। आंखों की बात करके ‘‘आंख की हरकत’’ पूरे देश ने देखी है। आंखों की बात करके सत्य को पूरी तरह से कुचला गया है। प्रधानमंत्री ने कांग्रेस को कहा कि वे उन्हें 2024 में फिर से केन्द्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए शुभकामनाएं देते हैं।

(एजेंसी इनपुट्स के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App