ताज़ा खबर
 

मोदी-गोगोई मुलाकात: पहली बार सुप्रीम कोर्ट कॉम्‍प्‍लेक्‍स में सीजेआई ने की पीएम की मेजबानी

साल 1949 में संविधान सभा द्वारा भारतीय संविधान को अपनाने के लिए 26 नवंबर को हर साल संविधान दिवस मनाया जाता है।

Author November 27, 2018 2:12 PM
दोनों तस्वीरें उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की है।

भारत के मुख्य न्यायधीश (सीजेआई) द्वारा रविवार (25 नवंबर, 2018) को संविधान दिवस की पूर्व संध्या पर डिनर का आयोजन किया गया। इसमें देश के उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी न्योता दिया गया। भूटान, बांग्लादेश, म्यांमार, थाईलैंड और नेपाल के मुख्य न्यायधीश भी सीजेआई इंडिया के डिनर में मौजूद थे।। ये सभी बिम्सटेक (बंगाल की खाड़ी बहु-क्षेत्रीय तकनीकी और आर्थिक सहयोग पहल) सम्मेलन में भाग लेने के लिए यहां आए हुए थे। चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया के रात्रि भोज से जुड़ी कुछ तस्वीरें उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी शेयर की है। तस्वीरों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रंजन गोगोई के एक साथ देखा जा सकता है। उप राष्ट्रपति नायडू भी चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के साथ नजर आ रहे हैं।

दरअसल साल 1949 में संविधान सभा द्वारा भारतीय संविधान को अपनाने के लिए 26 नवंबर को हर साल संविधान दिवस मनाया जाता है। खास बात यह है कि शायद ऐसा पहली बार है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुप्रीम कोर्ट कॉम्‍प्‍लेक्‍स में आयोजित किसी कार्यक्रम में भाग लिया हो। वहीं उप राष्ट्रपति ने मामले में ट्वीट कर लिखा, ‘संविधान दिवस समारोहों की पूर्व संध्या पर सीजेआई द्वारा आयोजित रात्रिभोज में भाग लिया। पड़ोसी देशों के मुख्य न्यायाधीशों से मुलाकात और बातचीत करके अच्छा लगा।’

बता दें कि सोमवार को सीजेआई ने साफ शब्दों में कहा कि संविधान के सुझावों पर ध्यान देना उनके सर्वक्षेष्ठ हित हैं और अगर ऐसा नहीं किया तो अराजकता तेजी से बढ़ेगी। यह बात उन्होंने संविधान दिवस के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कही। कार्यक्रम में मौजूद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि संविधान स्वतंत्र भारत का आधुनिक ग्रंथ है। संविधान नागरिकों को सशक्त करता है, वहीं नागरिक भी संविधान का पालन कर उसे मजबूत बनाते हैं। उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी संविधान दिवस की बधाई दीं। पीएम ने एक ट्वीट के जरिए लिखा, ‘हमें अपने संविधान पर गर्व है और इसमें उल्लेखित मूल्यों को बरकरार रखने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराते हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App