ताज़ा खबर
 

राफेल पर पीएम मोदी का राहुल गांधी को जवाब! सोने का नाटक करने वाले को जगाना असंभव

नरेंद्र मोदी ने कहा कि मीडिया रिपोर्ट्स बताती है कि कांग्रेस नेता इसीलिए शोर कर रहे हैं, बिचौलिए के बचाव के लिए वकील पहुंच जाते हैं।

Author January 13, 2019 7:22 AM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (पीटीआई फोटो)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार (12 जनवरी, 2019) को कहा कि देश के इतिहास में पहली बार ऐसी सरकार है जिस पर भ्रष्टाचार के आरोप नहीं है, देश विकास के मंत्र के आधार पर आगे बढ़ रहा है, साथ ही उन्होंने देश के विकास, सुरक्षा, गरीब कल्याण, किसान हित के लिए आने वाले चुनाव में देश में ‘मजबूत सरकार’ चुनने की वकालत की। रामलीला मैदान में भाजपा की राष्ट्रीय परिषद की बैठक के समापन सत्र को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि वे यह नहीं कहते कि सभी लक्ष्य पूरे कर लिए गए हैं, अभी भी बहुत कुछ करना है लेकिन वह कहना चाहते हैं कि उन्होंने कमियों को दूर करने का ईमानदारी से प्रयास किया है। चुनौतियां चाहे जितनी भी बड़ी हो, प्रयास उतने ही ईमानदार होंगे। कोशिशों में कोई कमी नहीं होगी।

कांग्रेस पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘इतिहास में पहली बार हथियार सौदे में भ्रष्टाचार के आरोपी एक बिचौलिए को विदेश से पकड़कर भारत वापस लाया गया। वरना पहले विदेशी बिचौलिए को बाहर भेजने के लिए जहाज तैयार रहते थे।’ मोदी ने कहा कि राजदार से जांच एजेंसियां तो कानूनी दायरे में पूछताछ कर रही है। इसके अलावा मी़डिया में भी रोज सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं। हाल में जो खुलासा हुआ, उससे साफ है कि सिर्फ हेलीकॉप्टर घोटाले में नहीं बल्कि लड़ाकू विमान वाली डील में भी खेल हुआ था। धीरे-धीरे परतें खुल रही है। नरेंद्र मोदी ने कहा कि मीडिया रिपोर्ट्स बताती है कि कांग्रेस नेता इसीलिए शोर कर रहे हैं, बिचौलिए के बचाव के लिए वकील पहुंच जाते हैं। अखबारों में आ रहा है कि पहले की सरकार के समय, लड़ाकू विमानों की डील इसलिए रुक गई, क्योंकि यही बिचौलिया दूसरी कंपनी के हवाईजहाज के लिए माहौल बना रहा था। इनकी पोल खुल रही है। इसलिए गालीगलौच पर उतर आए। साजिशों पर उतर आए। चाहे जितना गाली दें, झूठ बोले, चौकीदार रुकने वाला नहीं।

लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘अभी तो यह शुरुआत हुई है। चोर चाहे देश में हो या फिर विदेश में। यह चौकीदार एक को भी छोड़ने वाला नहीं।’ उन्होंने कहा, ‘संसद में राफेल विमान पर चर्चा हो रही थी। उस दौरान हमारे एक साथी ने बहुत आसान शब्दों में इसका जवाब दिया। किसानों की भाषा में समझाते हुए टाट की बोरी का उदाहरण दिया। साथी ने कहा कि अगर हम टाट की खाली बोरी खरीदने जाएं, तो उसकी कीमत कम होगी। मगर उसी बोरी में चावल भर दें तो एक दाम होत है। अगर बोरी में गेहूं भर दें तो दाम अलग होता है। अब वो बोरी हो जाएगी देढ़ हजार की। कोई कम पढ़ा-लिखा भी हो तो इस अंतर को आसानी से समझ सकता है। मगर कोई समझना ही नहीं चाहता उसे समझाया नहीं जा सकता।’ पीएम ने बिना नाम लिए राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा, ‘पुरानी कहावत है सोते को उठाया जा सकता है लेकिन जागते हुए सोने का बहाना बना रहा है, उठना ही नहीं चाहता हो तो उसे जगाया नहीं जा सकता।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App