ताज़ा खबर
 

दिल्ली विश्वविद्यालय: स्नातक प्रबंधन कोर्स में एडमिशन के लिए इस साल साक्षात्कार नहीं

डीयू इस बार बैचलर आॅफ मैनेजमेंट स्टडीज (बीएमएस), बीए (आॅनर्स) बिजनेस इकोनॉमिक्स और बीबीए (एफआइए) में दाखिले के लिए आॅनलाइन प्रवेश परीक्षा के आयोजन पर विचार कर रहा है।

Author नई दिल्ली | May 23, 2017 2:44 AM
दिल्ली यूनिवर्सिटी

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने इस साल स्नातक स्तर के तीनों प्रबंधन पाठ्यक्रमों की प्रवेश प्रक्रिया में बदलाव किया है। इस बार पिछले साल की तरह दाखिले के लिए होने वाले साक्षात्कार और समूह चर्चा (जीडी) को खत्म कर करने का फैसला किया गया है। बीते साल तीनों पाठ्यक्रमों के लिए देश भर से 37,000 विद्यार्थियों ने आवेदन किया था।  विश्वविद्यालय के अधिकारियों के मुताबिक, डीयू इस बार बैचलर आॅफ मैनेजमेंट स्टडीज (बीएमएस), बीए (आॅनर्स) बिजनेस इकोनॉमिक्स और बीबीए (एफआइए) में दाखिले के लिए आॅनलाइन प्रवेश परीक्षा के आयोजन पर विचार कर रहा है। इसके बाद साक्षात्कार और समूह चर्चा नहीं होगी। दाखिले में प्रवेश परीक्षा के अंकों का भार 65 फीसद और उम्मीदवार के कक्षा 12 के अंकों का भार 35 फीसद तय किया गया है।
इन पाठ्यक्रमों के लिए 31 मई से आॅनलाइन आवेदन शुरू होगा और प्रवेश परीक्षा का आयोजन जून में संभावित है। आवेदन के लिए सबसे पहले विद्यार्थी को अपने ई-मेल और मोबाइल नंबर का इस्तेमाल कर पंजीकरण करना होगा। इसके बाद ई-मेल और पासवर्ड की सहायता से आवेदन भरना होगा। आवेदन में विद्यार्थी को व्यक्तिगत सूचना जैसे नाम व जन्मतिथि के अलावा स्कैन किया हुआ पासपोर्ट आकार का रंगीन फोटो और हस्ताक्षर भी अपलोड करना होगा। इसके बाद कक्षा 12 के विषयों और उनमें आए अंकों का ब्योरा देना होगा, जिसमें अंग्रेजी और गणित आवश्यक हैं। इसके बाद आॅनलाइन फीस का भुगतान करके आवेदन पूरा हो जाएगा।

31 मई से तीनों प्रबंधन पाठ्यक्रमों के लिए होगा आॅनलाइन आवेदन, आॅनलाइन प्रवेश परीक्षा का आयोजन करने पर विचार कर रहा डीयू

दाखिले की योग्यता

सामान्य उम्मीवारों के मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 12 में 60 फीसद से अधिक अंक होने चाहिए। इन पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए कक्षा 12 में गणित और अंग्रेजी विषय अवश्य होने चाहिए। दाखिले के लिए वे छात्र भी आवेदन कर सकते हैं जिनका कक्षा 12 का परिणाम अभी घोषित नहीं हुआ है।
चार विषयों से होंगे सवाल प्रवेश परीक्षा का कोई निर्धारित प्रारूप नहीं है। वैसे प्रवेश परीक्षा में चार विषयों से अधिकतम 120 सवाल पूछे जाएंगे। परीक्षा में सामान्य जानकारी, सामान्य अंग्रेजी, रीजनिंग और मात्रात्मक योग्यता के सवाल पूछे जाएंगे। दो घंटे की परीक्षा में वस्तुनिष्ठ (आॅब्जेक्टिव) सवाल पूछे जाएंगे। परीक्षा में गलत उत्तर पर ऋणात्मक अंक भी दिए जाएंगे। सही उत्तर के लिए तीन अंक दिए जाएंगे और गलत उत्तर के लिए एक अंक काटा जाएगा।

 

आज से पटरी पर दौड़ेगी तेजस एक्सप्रेस, मेट्रो जैसे दरवाजे और एलसीडी स्क्रीन्स जैसी सुविधाओं से लैस

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App