ताज़ा खबर
 

राज्यसभा में मोदी ने की विपक्षी सदस्यों से मुलाकात

राज्यसभा में ललित मोदी प्रकरण व व्यापमं घोटाले को लेकर संसद के दोनों सदनों में जारी गतिरोध के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राज्यसभा में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन..

राज्यसभा में ललित मोदी प्रकरण व व्यापमं घोटाले को लेकर संसद के दोनों सदनों में जारी गतिरोध के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राज्यसभा में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सहित विपक्ष के कुछ नेताओं और सदस्यों से मुलाकात की।

दोपहर बारह बजे उच्च सदन की बैठक शुरू होने पर कांग्रेस सहित विपक्षी सदस्यों के हंगामे के कारण सभापति हामिद अंसारी ने बैठक दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी। बैठक स्थगित किए जाने से कुछ ही क्षण पहले मोदी उच्च सदन में आए और उन्होंने सभापति का अभिवादन किया।

मोदी अपनी सीट पर बैठ भी नहीं पाए थे कि हंगामे के कारण सभापति ने बैठक दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी। इसके बाद वे विपक्षी सदस्यों की ओर बढ़ गए। मुस्कुराते हुए मोदी ने विपक्षी सदस्यों से मुलाकात की। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, सदन में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और वरिष्ठ नेता कर्ण सिंह से हाथ मिलाया और कुछ देर तक उनसे के साथ बातें करते रहे।

मोदी ने कांग्रेस के नेता मधुसूदन मिस्त्री से भी हाथ मिलाया। जिन्हें उन्होंने लोकसभा चुनाव में वड़ोदरा सीट से हराया था। कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा का मोदी ने हाथ जोड़ कर अभिवादन किया। तीसरी पंक्ति में बैठे कांग्रेस के जयराम रमेश तक तो मोदी नहीं पहुंचे लेकिन दूर से उनकी ओर देख कर उन्होंने हाथ हिलाया। प्रधानमंत्री ने राकांपा के शरद पवार, जद (एकी) के शरद यादव, बसपा की मायावती से भी हाथ जोड़ कर अभिवादन किया।

विपक्षी सदस्यों से मिलने के बाद मोदी अपने स्थान पर लौट रहे थे तो उन्होंने भाकपा के डी राजा से भेंट की। इसके बाद वे अपनी सीट की ओर आए और अपनी पार्टी के नेताओं से मिले। फिर उन्होंने सदन से बाहर का रुख किया। उस समय विनय कटियार पार्टी नेताओं से बात कर रहे थे और मोदी की तरफ उनकी पीठ थी। पीछे से मोदी ने कटियार की पीठ थपथपाई। गुजरात के नेताओं ने झुक कर मोदी का अभिवादन किया।

विपक्षी नेताओं से प्रधानमंत्री की इस सौहार्दपूर्ण मुलाकात को केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज, मध्यप्रदेश व राजस्थान के मुख्यमंत्रियों के इस्तीफे की विपक्ष की मांग के चलते संसद में गुरुवार को लगातार तीसरे दिन जारी गतिरोध को दूर करने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X