ताज़ा खबर
 

दिल्‍ली: साउंडप्रूफ दीवारों के पीछे चल रहा मुजरा, ताश के पत्‍तों की तरह उड़ाए जाते हैं 2000 के नोट

दिल्ली में चल रही इन गैरकानूनी महफिलों पर स्पेशल कमिश्नर (कानून व्यवस्था) संदीप गोयल ने सख्त प्रतिक्रिया दी हैं। उन्होंने कहा कि अगर सचमुच ऐसा हो रहा है तो यह गैरकानूनी है। इसी स्वीकार नहीं किया जा सकता।

mujraतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (photo source File photo by Mhendra Parikh)

आमतौर पर कहा जाता है कि राजधानी दिल्ली में नाइटलाइफ नहीं है। मगर यह सच नहीं है। क्योंकि इन दिनों दिल्ली में अलग ही तरह की सीक्रेट नाइटलाइफ चल रही है। मगर किसी को इसकी भनक तक नहीं है। शहर के कई इलाकों में तो पूरी रात मुजरों की महफिल लगने लगी है। इनमें नए-पुराने हर तरह के फिल्मों गानों पर डांस होता है। यहां आए लोग नाच रहीं लड़कियों के हर एक ठुमके पर हजारों रुपए लुटाते हैं। देर रात तक शराब परोसी जाती है। हुक्का भी चलता है। एनबीटी की खबर के मुताबिक रात होते ही राजेंद्र प्लेट मेट्रो स्टेशन के पास, पश्चिमी दिल्ली के इलाके, पूर्वी कड़कड़डूमा जैसे इलाकों में मुजरे की महफिलें गुलजार होती हैं। खास बात यह है कि जिन बड़े-बड़े हॉल में मुजरा होता है उनकी दीवारें साउंडप्रूफ होती है। इनके बाहर एक गार्ड बैठा होता है। जो अंदर चल रही पार्टियों में जाने वाले शख्स की जांच करता है। इसके बाद वह कैमरे पर इशारा करता है और अंदर से दरवाजा खुल जाता है। खबर के मुताबिक यहां एंट्री की कोई फीस नहीं होती मगर सुरक्षा बहुत सख्त है।

एनबीटी ने अपने पत्रकार के हवाले से बताया कि दरवाजा खुलते ही माहौल पूरा सेट है। यहां ग्राहकों की फरमाइश और जेब के हिसाब से महफिल सजती है। नोटों की गड्डियां लुटाई जाती हैं। हालांकि फोटो खींचने की सख्त मनाही है। यहां पहुंचने पर टेबल पर बैठते ही खाना और ड्रिंक्स ऑर्डर करनी होती है। हुक्के का भी इंतजाम होता है। यहां बता दें कि शहर में देर रात के बाद ड्रिंक्स ऑर्डर नहीं करते लेकिन यहां लोगों को पूरी आजादी है। यहां कुछ रेस्टोरेंट तो रात के 2-3 बजे तक चलते हैं। एकाद जगह पर इससे भी ज्यादा देर तक पार्टियां चलती हैं।

यहां जो लड़किया अच्छा डांस करती हैं उनपर ग्राहक खुश होने पर 100 से दो हजार तक के नोट लुटा देते हैं। यहां आज जो गाने सबसे ज्यादा ट्रेंड में हैं वो हैं, ‘इन्हीं लोगों ने, अफगान जलेबी, कजरा रे।’ दूसरी तरफ दिल्ली में चल रही इन गैरकानूनी महफिलों पर स्पेशल कमिश्नर (कानून व्यवस्था) संदीप गोयल ने सख्त प्रतिक्रिया दी हैं। उन्होंने कहा कि अगर सचमुच ऐसा हो रहा है तो यह गैरकानूनी है। इसी स्वीकार नहीं किया जा सकता। जो वहां काम कर रहे हैं उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Next Stories
1 जीबी रोड से भाग निकलने में सफल महिलाओं ने सुनाई आपबीती, नौकरी के झांसे में दिल्ली लाकर बेची जा रहीं बंगाल की बेटियां
2 शांतिपूर्ण हुआ मतदान, नतीजे आज बताएंगे कि इस बार डूसू किसके पास
3 डीयू छात्रसंघ चुनावः प्रयोगशाला नजर आई छात्र राजनीति, 2019 पर निशाना
ये पढ़ा क्या?
X