ताज़ा खबर
 

जम्मू कश्मीरः श्रीनगर में मुठभेड़ में तीन आतंकी ढेर, पुलिसकर्मी शहीद

श्रीनगर के फतेह कदल इलाके में बुधवार को सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस के एसओजी ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया।

Author नई दिल्ली, 17 अक्तूबर | October 18, 2018 4:19 AM
कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक स्वंय प्रकाश पाणी ने ट्वीट कर बताया कि खुफिया सूचना के आधार पर तड़के घेराबंदी की गई।

श्रीनगर के फतेह कदल इलाके में बुधवार को सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस के एसओजी ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया। तीनों लश्कर-ए-तैयबा के शीर्ष कमांडर थे। इस मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया। शहीद कांस्टेबल का नाम कमल कुमार है। वे जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष दस्ते के कमांडो थे। वे जम्मू संभाग के रियासी के रहने वाले थे। मारे गए आतंकियों की पहचान फहद वाजा, मेहरुद्दीन बांगरू और रईस के रूप में हुई है। बांगरू के सिर पर इनाम भी घोषित था। इस मुठभेड़ के बाद जिला प्रशासन ने एहतियात के तौर पर शहर के सारे स्कूल और शिक्षण संस्थान बंद कर दिए हैं। साथ ही, मोबाइल इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है। सेना के अधिकारियों के मुताबिक, आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के साथ मिल कर शहर के भीड़-भाड़ वाले फतह कदल इलाके में तलाशी अभियान शुरू किया।

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक स्वंय प्रकाश पाणी ने ट्वीट कर बताया कि खुफिया सूचना के आधार पर तड़के घेराबंदी की गई। मुठभेड़ में मेहरूद्दीन बांगरू सहित तीन आतंकवादी मारे गए। आतंकि यों ने रईस के पिता के मकान को अपना ठिकाना बना रखा था। मुठभेड़ में वह मकान तबाह हो गया। आतंकी बांगरू श्रीनगर में हत्या के अनेक मामलों में शामिल था और शहर में लश्कर का अहम संयोजक था। सेना के प्रवक्ता के मुताबिक, बांगरू का सफाया उपलब्धि है। आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिलने के बाद मकान की घेराबंदी की गई। जैसे ही पुलिस मकान में घुसी आंतकियों ने उन पर भारी गोलीबारी शुरू कर दी। इसमें एसओजी के जवान कमल कुमार बुरी तरह घायल हो गए। बाद में उनकी मौत हो गई। सुरक्षा बलों की कार्रवाई के दौरान आंतकवादियों ने वहां से निकल कर दूसरे मकान में घुसने की कोशिश की लेकिन वे सड़क पर मारे गए। अभियान के दौरान शहीद हुए कांस्टेबल कमल किशोर के पार्थिव शरीर को उनके पैतृक निवास ले जाए जाने से पहले जिला पुलिस लाइन में उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। कार्रवाई के दौरान दो अन्य सुरक्षाकर्मी घायल हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मुठभेड़ के बाद प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षाबलों पर पथराव किया। इससे पुराने शहर के अनेक स्थानों पर झड़पें हुईं। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए शहर के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

ग्रेनेड हमले में तीन पुलिसकर्मी घायल

जम्मू कश्मीर के बारामूला जिले में बुधवार को आतंकवादियों के ग्रेनेड हमले में तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए। इस हमले में शामिल तहरीक-उल-मुजाहिदीन के एक आतंकवादी को गिरफ्तार कर लिया गया। बारामूला-श्रीनगर राजमार्ग पर बाबा तेंग पत्तन में आतंकियों की गाड़ी रोकी गई। लेकिन भीतर बैठे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड फेंका। इस हमले में पुलिस उपाधीक्षक जफर मेहदी और दो अन्य पुलिसकर्मी शब्बीर अहमद तथा आशिक हुसैन इस हमले में घायल हो गए। अन्य पुलिसकर्मियों ने भाग रहे आतंकवादियों का पीछा किया और उनमें से एक को पकड़ लिया। उसकी पहचान पुलवामा जिले के फैजान मजीद भट्ट के रूप में हुई है। उसका साथी शौकत अहमद भट्ट भागने में कामयाब रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App