ताज़ा खबर
 

दिल्ली: युवक ने 11 साल की बच्ची के साथ ट्रेन के आगे कूदकर की खुदकुशी की कोशिश, दोनों गंभीर घायल

शुरुआती जांच में चौथी कक्षा में पढ़ने वाली बच्ची बबीता (बदला नाम) की सज्जन से गहरी दोस्ती होने की बातें सामने आई हैं। युवक बच्ची को ट्यूशन भी पढ़ाता था। बच्ची के परिजनों को दोनों के संबंध पर शक था।
Author नई दिल्ली | August 9, 2017 00:52 am
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

रोहिणी जिले के नरेला इलाके में 11 साल की एक बच्ची ने 26 साल के युवक के साथ ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की। हादसे में युवक के दोनों पैर कट गए, जबकि घायल बच्ची भी अस्पताल में भर्ती है। शुरुआती जांच में चौथी कक्षा में पढ़ने वाली बच्ची बबीता (बदला नाम) की सज्जन से गहरी दोस्ती होने की बातें सामने आई हैं। युवक बच्ची को ट्यूशन भी पढ़ाता था। बच्ची के परिजनों को दोनों के संबंध पर शक था। सज्जन का कहना है कि उसने कई बार बबीता के परिजनों से कहा कि दोनों में गलत संबंध नहीं है, पर वे मानने को तैयार नहीं थे। इस बात पर बच्ची की पिटाई भी होती थी। इससे परेशान होकर दोनों ने सोमवार की शाम खुदकुशी का फैसला किया और ट्रेन के आगे कूद गए। बबीता का कहना है कि उसके परिजन उसे दिल्ली से बाहर बिहार उसकी मौसी के पास भेज रहे थे, जिससे वह परेशान हो गई थी।

रेलवे के पुलिस उपायुक्त परवेज अहमद का कहना है कि दोनों का परिवार स्वतंत्र नगर औद्योगिक इलाके में आसपास ही रहते हैं। पुलिस दोनों में दोस्ती के बाद खुदकुशी की कोशिश व दुर्घटना सहित अन्य बिंदुओं से मामले की जांच कर रही है। दुर्घटना के बाद स्थानीय लोगों को लगा कि वे भाई-बहन हैं और रेलवे ट्रैक पर दुर्घटना का शिकार हो गए हैं, लेकिन जैसे ही दोनों को खून से लथपथ राजा हरिश्चंद्र अस्पताल में भर्ती कराया गया और पहचान के लिए पूछताछ शुरू हुई तो लोग भौंचक्के रह गए। बबीता और सज्जन ने बताया दोनों की एक-दूसरे से गहरी दोस्ती थी और इस दोस्ती को उनके परिवार वाले गलत समझते थे। दोनों इससे परेशान रहते थे, इसीलिए उन्होंने टेÑन के आगे कूदकर जान देने की योजना बनाई। गनीमत रही कि दोनों बच गए। डॉक्टरों ने उनकी हालत देख उन्हें तुरंत लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल भेज दिया।

परवेज अहमद का कहना है कि मामला अभी संदिग्ध है। दस साल की बच्ची युवक के साथ किन हालात में रेलवे पटरी पर पहुंचे और यह हादसा हुआ इसकी जांच की जा रही है। कुछ लोगों का कहना है कि बच्ची पटरी पर गिरी और उसे बचाने के लिए कूदे युवक ने अपने दोनों पैर गंवा दिए। कुछ लोगों का यह भी कहना है कि दोनों रेलवे लाइन पार करते हुए हादसे का शिकार हो गए।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.