ताज़ा खबर
 

दिल्‍ली: एमसीडी में हैट्रिक लगाने को भाजपा ने बनार्इ रणनीति, अमित शाह ने खुद संभाला मोर्चा

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीजेपी इस बार वर्तमान के पार्षदों को टिकट देने के बजाए नए चेहरों को टिकट देने पर रणनीति तैयार कर रही है।

भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में भारी बहुमत के साथ मिली जीत के बाद बीजेपी दिल्ली में इस साल होने वाले नगर निगम के चुनावों की तैयारी में जुट गई है। पार्टी के नेताओं को कहना है कि वह इस बार आम आदमी पार्टी को जीतने का कोई मौका नहीं देना चाहती। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीजेपी इस बार वर्तमान के पार्षदों को टिकट देने के बजाए नए चेहरों को टिकट देने पर रणनीति तैयार कर रही है। जैसा कि सभी जानते हैं कि बीजेपी पिछले 10 सालों से नगर निगम पर कब्जा जमाए हुए है और इस बार भी नई रणनीति तैयार कर बीजेपी नगर निगम पर अपना कब्जा जमाना चाहती है। कई बातों को ध्यान में रखते हुए बीजेपी ने मंगलवार को सभी निगम पार्षदों की बैठक बुलाई।

दिल्ली में जब से आम आदमी पार्टी की सरकार बनी है तबसे ही वह बीजेपी पर नगर निगम में भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाती रही है। ऐसे में बीजेपी खुद की छवि को सुधारने के लिए जी-जान से मेहनत करेगी। अभी कुछ दिन पहले बीजेपी के नेतृत्व में एक बैठक आयोजित की गई जिसमें फैसला लिया गया कि अभी के पार्षदों को टिकट नहीं दिया जाएगा क्योंकि बीजेपी चाहती है कि इन पार्षदों ने जो नाराजगी जनता में फैलाई है उसका असर चुनाव के नतीजों पर न पड़े।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 24990 MRP ₹ 30780 -19%
    ₹3750 Cashback
  • I Kall K3 Golden 4G Android Mobile Smartphone Free accessories
    ₹ 3999 MRP ₹ 5999 -33%
    ₹0 Cashback

आपको बता दें कि दिल्ली के तीन नगर निगम में 272 सीटें हैं जिनमें से बीजेपी के पास 139 सीटें हैं। वहीं नगर निगम के चुनाव के मद्देनजर बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा 19 मार्च को रामलीला मैदान में कार्यकर्ताओं को बुलाया गया है। रामलीला मैदान में केवल उन्ही कार्यकर्ताओं को बुलाया गया है जिनके पास बूथ स्तर की जिम्मेदारी है। इस बार आप और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिलेगी क्योंकि जहां एक तरफ बीजेपी नई रणनीति बना रही है वहीं आप ने भी कमर कस ली है। हाल ही में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि अगर आम आदमी पार्टी नगर निगम के चुनावों में जीत हासिल करती है तो उनकी सरकार दिल्ली को लंदन जैसा बना देगी।

वहीं कांग्रेस भी नगर निगम चुनावों से वापसी करने की ताक में बैठी हुई है। एमसीडी के चुनावों में बीजेपी, कांग्रेस और आप के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होगा। कांग्रेस ने एमसीडी चुनावों के लिये घर-घर जाकर चुनाव प्रचार करने की योजना बनायी है। योजना के तहत हर कार्यकर्ता प्रत्येक चुनाव क्षेत्र में 16 घरों को कवर करेगा। 272 वार्ड वाले तीन निकाय संस्थाओं के लिये चुनाव प्रचार में कांग्रेस विकास के मोर्चे पर आप और भाजपा दोनों की नाकामी पर ध्यान केंद्रित करेगी।

देखिए वीडियो - दिल्ली प्रदूषण: NGT ने दिल्ली सरकार को लगाई फटकार; 4 राज्यों के पर्यावरण सचिवों को किया तलब

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App