ताज़ा खबर
 

गाय पर दर्ज हुआ केस? पुलिस ने बताई सच्चाई

एक अनुमान के मुताबिक दिल्ली शहर में करीब 40 हजार आवारा गाय हैं। इससे निपटने के लिए दिल्ली हाई कोर्ट ने आदेश दिया था कि कोई भी शख्स अगर दक्षिणी दिल्ली में आवारा गाय को पकड़कर सौंपेगा तो उसे दो हजार रुपये दिए जाएंगे।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

देश की राजधानी दिल्ली में सोमवार (एक मई) को अनोखा मामला सामने आया। खबर आई कि यहां एक गाय पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। बताया गया कि गाय के सामने एक स्कूटर सवार शख्स आ गया था, जिसके कारण उसे गंभीर चोटें आई थीं। ऐसे में पीड़ित ने गाय के खिलाफ थाने में शिकायत दे दी। लेकिन इस मामले में कोई भी आधिकारिक पुष्टि नहीं कर पाया कि आखिर मामला गाय पर दर्ज हुआ है या नहीं। मंगलवार (दो मई) को इसी बाबत पुलिस की ओर से सच्चाई उजागर की गई।

यह मामला सदर बाजार इलाके के दरियागंज का है। स्थानीय निवासी मोहम्मद शकील किसी काम से सदर बाजार आए थे। बीते 27 अप्रैल को शाम करीब 7.15 बजे वह अपने स्कूटर पर लाहौरी गेट से सदर बाजार मार्केट की तरफ जा रहे थे। वहीं कुतुब चौक की तरफ से एक गाय उनके सामने आ गई। शकील अपने स्कूटर पर नियंत्रण नहीं पा सके और वहीं गिर पड़े। उनके पैरों में इस हादसे के कारण काफी चोटें आईं। उन्हें राहगीरों ने उठाकर एलएनजेपी अस्पताल में पहुंचा दिया।

चोट लगी तो दर्ज करवाया मुकदमा : एलएनजेपी अस्पताल के डॉक्टरों ने एक्स—रे निकाला तो पता चला कि उनके पैर में फ्रैक्चर आ गया है। अब शकील पैरों में दर्द से परेशान हैं और अपने कारखाने भी नहीं जा पा रहे हैं। शकील का दिल्ली गेट में ट्रिमर और मसाजर बनाने का छोटा सा कारखाना है। कहा जा रहा था कि कारोबार और शरीर को नुकसान पहुंचने से नाराज मोहम्मद शकील ने दिल्ली के सदर बाजार थाने में अज्ञात गाय के खिलाफ मामला दर्ज कराया। पुलिस शकील के बताए हुलिए के आधार पर आसपास के इलाकों में सीसीटीवी की मदद से गाय की खोजबीन कर रही थी।

यह थी असल बात: मंगलवार को डीसीपी (उत्तरी) ने कहा है कि भटकी हुई ने एक शख्स को सींग मार दी थी। हमले में उस शख्स के गंभीर चोटें आई थीं। जख्म जांघ में आए थे, जिसके कारण उसे अस्पताल ले जाना पड़ा था। मामला गाय पर नहीं बल्कि उसके मालिक पर दर्ज किया गया है, जिसने उसे लावारिस छोड़ दिया। भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की कई धाराओं के तहत उस पर मामला दर्ज किया गया है।

बड़ी समस्या हैं आवारा गाय : दिल्ली की सड़कों पर घूमती हुई गाएं दिल्ली का सिरदर्द बन गई है। एक अनुमान के मुताबिक दिल्ली शहर में करीब 40 हजार आवारा गाय हैं। इससे निपटने के लिए कुछ दिन पहले इस संबंध में दिल्ली हाई कोर्ट ने आदेश दिया था कि कोई भी शख्स अगर दक्षिणी दिल्ली में आवारा गाय को पकड़कर अधिकारियों को सौंपेगा तो उसे दो हजार रुपये दिए जाएंगे। लेकिन अधिकारियों को ये भय था कि लोग इनाम के लालच में एक ही गाय को कई दफे बेच सकते हैं। इससे निपटने के लिए दिल्ली में अधिकारियों ने माइक्रोचिप इस्तेमाल की था। चिप से पता चल जाता था कि गाय पहले भी सौंपी जा चुकी है या नहीं। नगर निगम के अधिकारी मानते हैं कि आवारा गाय की बढ़ती संख्या की बड़ी वजह ग़ैर-क़ानूनी डेयरी फ़ार्म हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App