ताज़ा खबर
 

रात में फोन पर बॉयफ्रेंड से बात कर रही थी साली, जीजा ने गला दबाकर कर दी हत्या

उत्तरी-पूर्वी दिल्ली के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अजीत कुमार सिंघला ने बताया कि बुधवार सुबह (14 मार्च, 2018) ज्योति के भाई ने बहन की हत्या की सूचना दी थी। जिसके बाद पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राजधानी दिल्ली के वेलकम इलाके में एक शख्स ने अपनी साली की महज इसलिए हत्या कर दी क्योंकि वह प्रेमी से रात में फोन पर बात कर रही थी। आरोपी हत्या के बाद करीब चार घंटे तक शव के पास बैठ रहा। बाद में उसने डीसीपी ऑफिस जाकर आत्मसमर्पण कर दिया। स्थानीय खबरों के अनुसार आरोपी की पहचान राम करण के रूप में की गई है, जो प्रेमी से बात करने पर अपनी साली ज्योति वर्मा (19) से खासा नाराज था। हत्या के बाद राम चरण ने पत्नी को भी इसकी जानकारी खुद दी। फोन पर आरोपी ने बताया कि उसने ज्योति की हत्या कर दी है इसलिए वह स्टेशन नहीं आएगा। वहीं पुलिस ने राम चरण को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से दो मोबाइल फोन बरामद किए है। इसके साथ एक स्कूटी और गला दबाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले लोहे के हथियार को भी बरामद कर लिया है।

मामले में उत्तरी-पूर्वी दिल्ली के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अजीत कुमार सिंघला ने बताया कि बुधवार सुबह (14 मार्च, 2018) ज्योति के भाई ने बहन की हत्या की सूचना दी थी। जिसके बाद पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं पुलिस पूछताछ में हत्या के आरोपी राम चरण ने बताया कि उसकी साली फोन पर किसी लड़के से बात करती थी। बात करना उसे पसंद नहीं था। कई बार उसने डांटा भी। बीते मंगलावर रात करीब 12 बजे ज्योति को बात करते देखा तो उसे बहुत डांटा, इसपर दोनों के बीच तीखी बहस हो गई।

खबर के अनुसार इससे गुस्साए राम चरण ने लोहे की पतली रॉड से ज्योति का गला दबा दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। राम चरण के मुताबिक हत्या के बाद करीब चार घंटे तक वह शव के पास बैठा रहा। तभी दिल्ली से बाहर गई पत्नी ने लौटने पर उसे फोन किया और रेलवे स्टेशन आकर घर ले जाने की बात कही। तब उसने हत्या की बात पत्नी को बताई और अपने घर चला गया। बाद में आत्मसमर्पण कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App