ताज़ा खबर
 

सादे कपड़े में तैनात महिला पुलिसकर्मी को बातों में फंसा गंदे इशारे करने लगा पैसेंजर, हुआ अरेस्ट

सीआईएसएफ के मुताबिक आरोपी को जब गिरफ्तार किया गया तो वह शराब के नशे में था और न्यूयॉर्क जा रहा था। उन्होंने बताया कि घटना का सीसीटीवी फुटेज प्राप्त कर लिया गया है और इस मामले में जांच जारी है।

महिला पुलिस कर्मी के साथ छेड़छाड़। (Representative Image)

तमाम कोशिशों के बाद भी महिलाओं के साथ होने वाली हरकतें थमने का नाम नहीं ले रही है। दिल्ली एयरपोर्ट पर भी एक ऐसा ही मामला सामने आया। यहां एक 50 साल के शख्स ने सादे कपड़े में तैनात महिला कॉन्सटेबल के साथ अभद्र व्यवहार किया। सीआईएसएफ की महिला कॉन्सटेबल को सादे कपड़ों में ड्यूटी पर तैनात किया गया था। उसे दिल्ली एयरपोर्ट के टी-3 टर्मिनल में संदिग्ध यात्रियों पर नजर रखने के लिए कहा गया था। इसी दौरान एक शख्स महिला पुलिसकर्मी को अभद्र इशारे करने लगा, जिसके बाद उसको गिरफ्तार कर लिया गया। यह घटना 27 जून रात की बताई जा रही है, जब पंजाब के यात्री कुवैत एयरवेज की फ्लाइट के लिए चेक इन कर रहे थे। रात करीब 2बजे यात्री ने चेक इन काउंटर के पास स्थित हेल्पलाइन से मदद मांगी।

एयरपोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मेदारी संभालने वाली सीआईएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि यात्री सादे कपड़ों तमें तैनात महिला पुलिसकर्मी से बात करने लगा। थोड़ी देर बाद उसने महिला के साथ बदतमीजी करनी शुरू कर दी। यहीं तक कि उसने कॉन्सटेबल को गंदे इशारे भी किए। जिसके बाद महिला कॉन्सटेबल ने यात्री को पकड़ लिया और सीनियर अधिकारियों को तुरंत इस बात की जानकारी दी। जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। महिला कॉन्सटेबल ने आईपीसी की धारा 509 के तहत उस शख्स के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है।

सीआईएसएफ के मुताबिक आरोपी को जब गिरफ्तार किया गया तो वह शराब के नशे में था और न्यूयॉर्क जा रहा था। उन्होंने बताया कि घटना का सीसीटीवी फुटेज प्राप्त कर लिया गया है और इस मामले में जांच जारी है। सीआईएसएफ की ओर से जानकारी दी गई है कि सुरक्षाबल द्वारा महिलाओं को सादे कपड़ों में तैनात किया गया था ताकि संदिग्ध यात्रियों और महिला उत्पीड़न के मामलों पर नजर रखा जा सके।

बता दें कि महिलाओं के साथ अभद्रता, बदतमीजी और छेड़छाड़ के कई मामले पहले भी सामने आ चुके हैं। अक्सर किसी घटना के बाद महिला सुरक्षा का मुद्दा पूरे जोर-शोर के साथ उठाया जाता है। हालांकि तमाम कोशिशों और प्रयासों के बाद भी महिलाओं के साथ इस तरह की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है।

 

Next Stories
1 दिल्ली: साल के अंत तक पिंक और मैजेंटा लाइन पर भी दौड़ेगी मेट्रो
2 रियल एस्टेट: जीएसटी का असर, खरीदारों पर बढ़ेगा भार
3 डीयू में दूसरी कटआॅफ के आधार पर प्रवेश लेने का आखिरी मौका आज
ये पढ़ा क्या?
X