ताज़ा खबर
 
title-bar

बांग्लादेशी अभिनेता गाजी नूर को भारत छोड़ने का आदेश

पश्चिम बंगाल में एक चुनावी रैली में हिस्सा लेने वाले बांग्लादेशी अभिनेता गाजी अब्दुल नूर को तुरंत भारत छोड़ने के लिए कहा गया है। यह जानकारी गुरुवार को गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने दी।

Author नई दिल्ली | April 19, 2019 12:16 AM
पश्चिम बंगाल में एक चुनावी रैली में हिस्सा लेने वाले बांग्लादेशी अभिनेता गाजी अब्दुल नूर को तुरंत भारत छोड़ने के लिए कहा गया है।

पश्चिम बंगाल में एक चुनावी रैली में हिस्सा लेने वाले बांग्लादेशी अभिनेता गाजी अब्दुल नूर को तुरंत भारत छोड़ने के लिए कहा गया है। यह जानकारी गुरुवार को गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने दी। फिरदौस अहमद के बाद नूर दूसरे बांग्लादेशी अभिनेता हैं, जिन्हें भारत छोड़ने को कहा गया है। वीजा की अवधि समाप्त होने के बावजूद नूर भारत में रुके हुए थे। उन्होंने बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के लिए उम्मीदवारों के समर्थन में आयोजित रैलियों में देखा गया था। अभी हाल में उनका वीडियो वायरल हुआ, जिसमें वह दमदम से तृणमूल उम्मीदवार के लिए प्रचार करते दिख रहे हैं।

बांग्लादेशी अभिनेता द्वारा वीजा नियमों के उल्लंघन के लिए ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन की रिपोर्ट के आधार पर गृह मंत्रालय ने यह कदम उठाया। भाजपा ने इस सिलसिले में चुनाव आयोग में भी शिकायत दर्ज कराई है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया, ‘वीजा नियमों का उल्लंघन कर ज्यादा समय तक रुकने के लिए उपयुक्त कदम उठाए जा रहे हैं’। केंद्र सरकार ने मंगलवार को अहमद के नाम भारत छोड़ने का नोटिस जारी किया था और एक राजनीतिक दल के लिए कथित तौर पर प्रचार करने को लेकर उनका बिजनेस वीजा रद्द कर दिया। अहमद ने पश्चिम बंगाल के रायगंज में तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार की एक रैली में हिस्सा लिया था।

गाजी नूर दूसरे ऐसे बांग्लादेशी फिल्म कलाकार हैं, जिनके खिलाफ कार्रवाई की गई है। तृणमूल कांग्रेस के समर्थन में प्रचार करने के लिए फिरदौस नूर का कारोबारी वीजा रद्द कर उन्हें भारत छोड़ने का हुक्म दिया गया। फिरदौस का नाम काली सूची में भी डाल दिया गया। फिरदौस ने भारत-बांग्लादेश सीमा के पास हेमताबाद और करणदीघी में रायगंज सीट से तृणमूल प्रत्याशी कन्हैयालाल अग्रवाल के पक्ष में चुनाव प्रचार किया था, जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया था। इसे लेकर बंगाल भाजपा ने बुधवार को चुनाव आयोग से शिकायत की थी। प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष जयप्रकाश मजुमदार ने इसे वीजा नियमों का उल्लंघन बताते हुए कहा था कि यह एक विदेशी नागरिक द्वारा चुनावी प्रक्रिया को सक्रिय रूप से प्रभावित करने का एक और संगीन मामला है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App