ताज़ा खबर
 

दिल्ली: एयरपोर्ट पर दुबई से आईं महिलाओं का चेहरे से बुरका हटाने से इनकार, अधिकारियों ने वापस भेजा

इमीग्रेशन काउंटर पर विदेश से आए यात्रियों की पहचान जानने के लिए उनका चेहरा देखना जरूरी होता है।

इंदिरा गांधी एयरपोर्ट। (फाइल फोटो)

दुबई से दिल्ली आए एक कुवैती नागरिक और उसके साथ यात्रा कर रही तीन महिलाओं ने दिल्ली एयरपोर्ट पर जमकर ड्रामा किया। ये ड्रामा तब हुआ जब इस शख्स ने अपने साथ आईं महिलाओं का बुरका उठाने से मना कर दिया । बता दें कि इमीग्रेशन काउंटर पर विदेश से आए यात्रियों की पहचान जानने के लिए उनका चेहरा देखना जरूरी होता है। जब इन विदेशी यात्रियों की पहचान जानने के लिए इनका बुरका हटाने के लिए कहा गया तो कुवैती नागरिक ने इससे इनकार कर दिया और एयरपोर्ट पर अधिकारियों के साथ बदसलूकी करने लगा। इन पैसेंजर्स के हिंसक रवैये को देखते हुए अधिकारियों को पुलिस बुलानी पड़ गई। हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक कई बार कहने के बावजूद जब इस शख्स ने अपने साथ सफर कर रही तीन महिलाओं का चेहरा दिखाने से इनकार कर दिया तो इन लोगों को वापस दुबई भेज दिया गया।

एयरपोर्ट पर एक सूत्र ने बताया कि इनके साथ सफर कर रहे पुरुष यात्री ने शायद शराब पी रखी थी। इस शख्स ने सबसे पहले तो इमिग्रेशन फॉर्म भरने से ही इनकार कर दिया। जब अधिकारियों ने किसी तरह से उसे फॉर्म भरने पर राजी किया तो उसने अपने साथ सफर कर रही महिलाओं के चेहरे से बुरका हटाने से ही इंकार कर दिया। ये घटना मंगलवार की रात 9 बजे की है। ये सारे यात्री एमिरैट्स फ्लाइट के जरिये दुबई से दिल्ली पहुंचे थे। जैसे ही ये लोग एयरपोर्ट से बाहर निकलने के लिए इमिग्रेशन काउंटर पर पहुंचे इन्हें फॉर्म भरने को कहा गया। अधिकारियों ने कहा कि ये कुवैती नागरिक गुस्सा हो गया, वो गाली गलौज करने लगा और इंडियन सिस्टम के बारे में गलत बातें कहने लगा। जब अधिकारी उसे शांत करने की कोशिश कर रहे थे तब तक बैंकॉक से आया एक शख्स भी उन्हें इमिग्रेशन फॉर्म भरने के लिए मनाने लगा। लेकिन इस दौरान कुवैत का ये नागरिक इस शख्स ने बहस करने लगा। दोनों के बीच बात इतनी बढ़ी कि बैंकॉक से आए शख्स ने उसे थप्पड़ मार दिया।

हालात बिगड़ता देख सीआईएसएफ को बुलाना पड़ गया। क्योंकि तब तक कुवैती नागरिक तोड़-फोड़ पर उतारु हो गया था। काफी जोर देने के बाद इस शख्स ने इमिग्रेशन फॉर्म भर दिया, लेकिन महिला के चेहरे से नकाब हटाने को राजी नहीं हुआ। आखिरकार काउंटर महिला इमिग्रेशन अधिकारियों को बुलाया गया। लेकिन तब तक ये सारे लोग गाली गलौज करने लगे थे। इसके बाद आखिरकार पुलिस ने इन लोगों को बैरंग वापस दुबई भेज दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App