ताज़ा खबर
 

कुमार विश्वास का केजरीवाल पर निशाना- रास्ते से हटी पार्टी, आंदोलन चेहरे में बदल गया तो खत्म हो जाएगा

विश्वास ने कहा कि क्या आपको नहीं लगता कि हम कहीं और चले गए हैं, जहां से हम पांच साल पहले निकले थे? हमें सही रास्ते को ढूंढना होगा।
आप नेता कुमार विश्वास।

आम आदमी पार्टी (आप) के संस्थापक सदस्यों में से एक कुमार विश्वास ने रविवार को कहा कि पार्टी अपने द्वारा तय किए गए रास्ते से हट गई है और उसे उचित दिशा में आगे बढ़ने के लिए सही रास्ता ढूंढना होगा। विश्वास रामलीला मैदान में आयोजित आम आदमी पार्टी की पांचवीं वर्षगांठ पर राष्ट्रीय सम्मेलन में बोल रहे थे। सम्मेलन में 22 राज्यों के पार्टी प्रतिनिधियों ने भाग लिया।  आप नेता ने कहा, “क्या आपको नहीं लगता कि हम कहीं और चले गए हैं, जहां से हम पांच साल पहले निकले थे? हमें सही रास्ते को ढूंढना होगा।” उन्होंने आप के नेतृत्व और कैडर को आत्मनिरीक्षण करने के लिए भी कहा। उन्होंने कहा, “हमें स्वयं के बारे में सोचना चाहिए कि हमने पांच साल पहले कहां शुरू किया था और अब हम कहां हैं।”

विश्वास ने कहा कि कुछ पार्टी नेताओं ने सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के बारे में बात नहीं की, जिनके नेतृत्व में कई नेताओं ने 2011 के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन में भाग लिया था। उन्होंने कहा कि ‘अन्ना इस अभियान के निर्माता थे।’ विश्वास ने इशारो इशारो में केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि आंदोलन के चेहरे में ना बदले नहीं तो आंदोलन खत्म हो जाएगा। इस महीने आयोजित आप नेशनल काउंसिल की बैठक का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि उनका नाम उस सम्मेलन में वक्ताओं की सूची में नहीं था। हालांकि, उन्होंने कहा कि वह कहीं नहीं जाएंगे और पार्टी में ही रहेंगे।

आप ने अक्टूबर माह में आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतउल्ला खान का निलंबन रद्द कर दिया था जिन्होंने विश्वास पर विश्वासघात का आरोप लगाया था। मई में, खान को निलंबित कर दिया गया था जबकि विश्वास को राजस्थान का प्रभारी बनाया गया था।  अन्ना हजारे की अगुवाई वाले इंडिया अगेंस्ट करप्शन आंदोलन की शुरुआत रामलीला मैदान से हुई थी जिसके बाद 2012 में आम आदमी पार्टी अस्तित्व में आई थी।  पार्टी नेता मनीष सिसोदिया, गोपाल राय, आशुतोष, पंकज गुप्ता और दूसरे नेता इस मौके पर उपस्थित थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.