ताज़ा खबर
 

भाजपा के लिए बढ़ रही परेशानियां, कीर्ति आजाद की पत्‍नी ने कहा- हमारे साथ नाइंसाफी हुई

नवजोत सिंह सिद्धू के राज्‍य सभा से इस्‍तीफा देने के बाद अब पार्टी के निलंबित सांसद कीर्ति आजाद की पत्‍नी ने आवाज उठाई है।
Author नई दिल्‍ली | July 25, 2016 21:56 pm
बिहार चुनाव के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ कीर्ति आजाद और उनकी पत्‍नी पूनम।

भाजपा के लिए अब अंदर से विरोध की आवाजें उठने लगी हैं। नवजोत सिंह सिद्धू के राज्‍य सभा से इस्‍तीफा देने के बाद अब पार्टी के निलंबित सांसद कीर्ति आजाद की पत्‍नी ने आवाज उठाई है। आजाद की पत्‍नी पूनम ने सोमवार को कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू की तरह ही पार्टी ने उनके और उनके पति के साथ नाइंसाफी की। इस तरह की अटकलें है कि भाजपा की दिल्ली इकाई की प्रवक्ता और तीन बार भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की सदस्य रह चुकी पूनम आम आदमी पार्टी से जुड़ सकती हैं। उन्होंने कहा, ”सिद्धू जी जो कह रहे हैं, वह पूरी तरह सही है। पार्टी ने उनके साथ अन्याय किया। वह अमृतसर से कई बार जीत कर आये, देश भर में पार्टी के लिए प्रचार किया और पार्टी के दिल्ली प्रभारी थे। उसी तरह पार्टी ने मेरे और कीर्ति जी के साथ नाइंसाफी की।”

उनके आम आदमी पार्टी से जुड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह अपने अगले कदम के बारे में बात करने के लिए अगले कुछ दिनों में संवाददाता सम्मेलन करेंगी। आजाद के परिवार के करीबी सूत्रों के मुताबिक अपने निलंबन के बाद कीर्ति भी पार्टी में ”असहज” महसूस कर रहे हैं। वित्त मंत्री अरूण जेटली पर डीडीसीए के प्रमुख के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान हुए कथित भ्रष्टाचार को लेकर लगातार हमले के बाद कीर्ति को पार्टी ने निलंबित कर दिया था। हालांकि इस बात की संभावना कम है कि वह पार्टी छोड़ेंगे क्योंकि इससे उनकी लोकसभा की सदस्यता चली जायेगी लेकिन उनकी पत्नी ऐसा कर सकती हैं।

तो क्‍या शत्रुघ्‍न सिन्‍हा और कीर्ति आजाद भी AAP में जाएंगे? कुमार विश्‍वास ने दिए संकेत

कीर्ति आजाद ने पिछले दिनों कहा था कि उनकी पत्‍नी अगर किसी पार्टी में जाती हैं तो यह उनका निजी फैसला है। आजाद बिहार के दरभंगा से सांसद हैं। उन्‍हें पिछले साल दिसंबर में निलंबित कर दिया गया था।

भाजपा को दो दिन में दूसरा झटका! कीर्ति आजाद की पत्‍नी आप में होंगी शामिल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.