दिल्‍ली के ऑटो-टैक्‍सी वालों ने अरविंद केजरीवाल के खिलाफ शुरू किया अभियान, कहा- हमें धोखा दिया - Kejriwal cheated on me too, Delhi autorickshaw, taxi unions begin campaign against CM - Jansatta
ताज़ा खबर
 

दिल्‍ली के ऑटो-टैक्‍सी वालों ने अरविंद केजरीवाल के खिलाफ शुरू किया अभियान, कहा- हमें धोखा दिया

पोस्टरों में लिखा गया है कि बुराड़ी अथॉरिटी में दलाली का अड्डा चलाया जा रहा है। ऑटो स्टैंड के नाम पर धोखा किया गया है। ऑटो वाले का शोषण आज भी फाइनेंसर कर रहे हैं। उसमें लिखा गया है- ''हम सब कपिल मिश्रा के साथ हैं।''

दिल्ली की सड़कों पर ऑटो वाले पोस्टर लगाकर केजरीवाल का विरोध कर रहे हैं। (Photo: Twitter)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 2013 और 2015 में ऑटो रिक्शा वालों का बहुत सहयोग मिला। सच्चाई के लिए लड़ने वाले अरविंद केजरीवाल के लिए दिल्ली के सभी ऑटोवाले ने अपने ऑटो रिक्शा पर उनके समर्थन में पोस्टर लगाकर लोगों से आम आदमी पार्टी को वोट डालने की अपील की। लेकिन अब 2017 में तस्वीर कुछ और है। लोगों का भरोसा उनके प्रति कम हुआ है। लोगों का मानना है कि केजरीवाल सरकार को उन्होंने मौका देकर गलती की। उनके साथ बहुत बड़ा धोखा हुआ है।

हालांकि, अब तक तो ये बात लोगों के जहन में ही थी, लेकिन अब लोग पोस्टरों के जरिए केजरीवाल सरकार का विरोध कर रहे हैं। दरअसल, ये सब कपिल मिश्रा विवाद के बाद देखने को मिल रहा है। दिल्ली की सड़कों पर ऑटो वाले पोस्टर लगाकर कह रहे हैं कि मुझे भी कपिल मिश्रा की तरह केजरीवाल ने धोखा दिया है। कुछ पोस्टरों में तो केजरीवाल के उन चुनावी वादे को भी दिखाया गया है, जिसे अभी तक पूरा नहीं किया गया है।

पोस्टरों में लिखा गया है कि बुराड़ी अथॉरिटी में दलाली का अड्डा चलाया जा रहा है। ऑटो स्टैंड के नाम पर धोखा किया गया है। ऑटो वाले का शोषण आज भी फाइनेंसर कर रहे हैं। उसमें लिखा गया है- ”हम सब कपिल मिश्रा के साथ हैं।”

इन पोस्टरों को देखकर ऐसा भी लग रहा है कि इसे राजनीतिक मुद्दा दिया जा रहा है। इसके पीछे गहरी साजिश से इनकार नहीं किया जा सकता है। अनुमान लगाया जा रहा है कि ये सब इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि ज्यादा से ज्यादा लोगों का समर्थन कपिल मिश्रा को मिल सके। दूसरी तरफ आप के कार्यकर्ताओं का दावा है कि हमने कपिल मिश्रा के साथ धोखा नहीं किया। उन्होंने पार्टी के साथ विश्वासघात किया है। उनके मुताबिक, मिश्रा पर भ्रष्टाचार का आरोप था, इस वजह से उन्हें पार्टी से निकाला गया।

वहीं अगर कपिल मिश्रा के अंदाज पर गौर करें वो इस वक्त महाभारत की लड़ाई लड़ रहे हैं। उनके मुताबिक, केजरीवाल ने सियासत की लड़ाई ऑटो वालों के साथ ही शुरू की थी। उन्होंने इस पर ट्वीट करके कहा, ”जिसने कमीशन खाया वो केजरावाल के साथ है और जिसने धोखा खाया वो कपिल मिश्रा के साथ है।” इसके आगे उन्होंने केजरीवाल से ऑफिस जाने की अपील की है। उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहा, ”हे राष्ट्रीय मुख्यमंत्री महोदय, कभी आफिस भी चले जाइये।”

देखिए वीडियो - आप विवाद: पार्टी से निकाले गए मंत्री कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल को लिखी चिट्ठी- "जिस गुरु से सब सीखा, उसी के खिलाफ FIR दर्ज कराऊंगा"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App