ताज़ा खबर
 

बच्चों के सामने ही बीवी को चाकुओं से गोदा, गला काटा, गैस सिलिंडर से कुचला सिर

दंपति की शादी 12 साल पहले हुई थी और यह शख्स अकसर अपनी पत्नी को टॉर्चर करता था।
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

सोमवार को दक्षिण पूर्व दिल्ली के बदरपुर में एक पति ने अपनी पत्नी की बेहरमी से हत्या कर दी। यह बेरोजगार शख्स अपने सास-ससुर के घर रह रहा था और पहले उसने चाकू से कई बार पत्नी पर वार किए। इसके बाद उसने उसका गला काट दिया और फिर उसका सिर सिलिंडर से कुचल दिया। इस शख्स ने अपने बच्चों के सामने इस खौफनाक वारदात को अंजाम दिया। टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक प्रवीन तनेजा (32) नाम के शख्स ने यह कदम इसलिए उठाया क्योंकि उसकी पत्नी मीनाक्षी (30) ने अपने माता-पिता का घर छोड़कर उसके साथ पास में किराए के घर पर रहने से इनकार कर दिया था। तनेजा ने अपनी पत्नी पर विवाहेत्तर संबंध होने का भी इल्जाम लगाया था। दक्षिणी पूर्वी दिल्ली के डीएसपी रोमिल बनिया ने बताया कि दंपति के 10 वर्षीय बेटे ने पिता के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

5 अगस्त को तनेजा खून से सने छूरे के साथ बदरपुर पुलिस स्टेशन पहुंचा। उसके रिश्तेदारों ने पुलिसवालों को खबर दे दी थी कि वह अपनी पत्नी की हत्या और बच्चे को कमरे में बंद करने के बाद फरार हो चुका है। जब पुलिसवाले घटनास्थल पर पहुंचे तो उन्हें मीनाक्षी का शव बरामद हुआ। पुलिस को दिए बयान में दंपति के बेटे ने बताया कि उसके पिता सुबह करीब 11 बजे आए थे। उस वक्त घर पर कोई नहीं था। वह उसकी मां से बहस करने लगे और तभी एक चाकू उठाकर उनका गला काट दिया। बच्चे ने पिता का हाथ काटकर उन्हें रोकने की कोशिश की। लेकिन उसने उसे और उसके 2 वर्षीय भाई को गले से पकड़कर कमरे में बंद कर दिया। बच्चे ने कहा, मां मुझसे कह रही थीं कि बेटा बचा ले मुझे। मैंने भी मदद मांगने की कोशिश की, लेकिन किसी ने नहीं सुनी। उसने बताया, अचानक मैंने एक तेज आवाज सुनी और मां की आवाज आनी बंद हो गई। उसने कहा कि मेरे पिता ने सिलिंडर उठाया और मां के सिर पर पटक दिया।

इसी बीच मीनाक्षी की मां भी आ गईं। उन्होंने तुरंत पड़ोसियों को खबर की। उन्होंने दरवाजा खोला और इसके बाद बच्चों ने वो खतरनाक मंजर बयां किया। मीनाक्षी के भाई ने बताया कि जब हम पुलिस थाने पहुंचे तो वहां प्रवीन पहले से मौजूद था। उसने वहीं हमें धमकी दी कि जब वह जेल से बाहर निकलेगा तो हम सबको एक-एक करके मार डालेगा। महिला के परिवार ने बताया कि तनेजा एक स्कूल बस चलाता था, लेकिन हाल फिलहाल में वह बेरोजगार था। उन्होंने बताया कि वह अपने सास-ससुर के घर पर रहता था और कई बार अपने माता-पिता के घर चला जाता था जो जैतपुर में एक किराए के घर पर रहते थे। दंपति की शादी 12 साल पहले हुई थी। तनेजा मीनाक्षी को टॉर्चर करता था, जिस वजह से वह बच्चों के साथ अपने मायके रहने आ गई। नौकरी छोड़ने के बाद वह भी उसी के साथ रहने आ गया और जब भी उसके माता-पिता घर से बाहर होते थे तो उसे टॉर्चर करता था।

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.