ताज़ा खबर
 

JNU Election Result 2018: मतगणना जारी, जानिए रुझानों में कौन चल रहा आगे

JNU Election Result 2018, JNUSU Election Result 2018: चुनाव समिति ने शनिवार (15 सितंबर, 2018) सुबह एक बयान जारी कर कहा कि मतगणना इसलिए रोकनी पड़ी की दो उम्मीदवारों ने काउंटिंग सेंटर से दो बैलेट बॉक्स छीननी की कोशिश की। इसके अलावा कमिटी के सदस्यों को धमकाने की कोशिश की गई है।

JNU election resultJNU Election Result 2018: जेएनयू छात्र संघ चुनाव के चार अहम पदों के लिए शुक्रवार को मतदान हुआ है। अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव और संयुक्त सचिव के पदों के लिए हुए इस चुनाव में रिकॉर्ड 70 फीसदी मतदान हुआ। (photo source PTI)

 JNU Election Result 2018, JNUSU Election Result 2018:  जेएनयू छात्रसंघ (जेएनयूएसयू) चुनावों के नतीजे आज घोषित किए जा सकते हैं। चुनाव में पड़े कुल 5185 वोटों की गिनती जारी है। अभी तक आए रुझानों के अध्यक्ष पद के लिए 2931 मतों की गिनती के बाद यूनाइटेड लेफ्ट 1193 मतों के साथ पहले नंबर पर चल रहा है। वहीं एबीवीपी 561 मतों के साथ दूसरे स्थान पर है। वहीं उपाध्‍यक्ष पद पर लेफ्ट की सारिका 1371 की निर्णायक बढ़त बना चुकी हैं। एबीवीपी की गीता 570 वोट पाकर दूसरे स्‍थान पर हैं। बाप्‍सा की पूर्णचंद्रा तीसरे स्‍थान पर हैं। महासचिव पद पर लेफ्ट के एजाज और संयुक्‍त सचिव पद भी लेफ्ट की अमुथा आगे चल रही हैं।

जेएनयू छात्रसंघ (जेएनयूएसयू) चुनावों में मतों की गिनती को निर्वाचन अधिकारियों ने मतगणना स्थल पर ‘‘जबरन प्रवेश’’ और ‘‘मतपेटियों को छीनने के प्रयासों’’ का हवाला देकर शनिवार को स्थगित कर दिया था। इससे पहले मतगणना प्रक्रिया के शुरू होने की जानकारी न मिलने का दावा करते हुए एबीवीपी ने प्रदर्शन किया। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) की छात्र इकाई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने चुनाव अधिकारियों पर वामपंथी संगठनों के साथ पक्षपात करने का आरोप लगाते हुए अदालत जाने की धमकी दी। इसके बाद जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में गतिरोध 12 घंटे से बरकरार है। वामपंथी संगठनों ने आरोप लगाया कि एबीवीपी कार्यकर्ता हिंसा में शामिल थे हालांकि भगवा संगठन ने इससे इनकार किया है।

Live Blog

Highlights

    10:27 (IST)16 Sep 2018
    JNUSU 2018 : यह है महासचिव, संयुक्‍त सचिव पद का रुझान

    महासचिव -

    एजाज, लेफ्ट : 1351गणेश, एबीवीपी : 778विशम्‍भर, बाप्‍सा : 466

    संयुक्‍त सचिव -

    अमुथा, लेफ्ट : 1152वेंकट, एबीवीपी : 720नुरेंग रीना(एनएसयूआई)-410

    09:56 (IST)16 Sep 2018
    JNUSU 2018: अब तक 2,941 मतों की गिनती पूरी

    अध्‍यक्ष -

    एन. साईं बालाजी(लेफ्ट)-1193ललित पाण्डेय(एबीवीपी)-561थल्लापल्ली प्रवीण(बापसा)-391जयंत कुमार 'जिज्ञासु'(छात्र राजद)-318विकास यादव(एनएसयूआई)-212

    उपाध्‍यक्ष- सारिका चौधरी(लेफ्ट)- 1371गीता बरुआ(एबीवीपी)- 570पूर्णचंद्रा नाईक(बापसा)-371लिजी के बाबू(nsui)- 310

    09:31 (IST)16 Sep 2018
    यह है महासचिव, संयुक्‍त सचिव पद का रुझान

    महासचिव -

    एजाज, लेफ्ट : 1018गणेश, एबीवीपी : 705विशम्‍भर, बाप्‍सा : 358

    संयुक्‍त सचिव -

    अमुथा, लेफ्ट : 880वेंकट, एबीवीपी : 616कनकलता, बाप्‍सा : 298

    09:14 (IST)16 Sep 2018
    JNUSU 2018 : यह है अध्‍यक्ष, उपाध्‍यक्ष पद का रुझान

    अध्‍यक्ष -

    बालाजी, लेफ्ट : 891ललित, एबीवीपी : 502प्रवीण : 291जयंत : 260

    उपाध्‍यक्ष -

    सारिका, लेफ्ट : 1095गीताश्री, एबीवीपी : 514पूर्णा, बाप्‍सा : 273एनएसयूआई : 259

    08:55 (IST)16 Sep 2018
    समिति ने दिया नियमों का हवाला

    तय मानकों के मुताबिक, एक बार बक्सों की सील खुलने के बाद कोई नया मतगणना एजेंट मतगणना स्थल पर नहीं जा सकता। इसमें कहा गया, ‘‘निर्वाचन समिति ने नए मतगणना एजेंटों को उस मतगणना स्थल पर प्रवेश देने के अनुरोध को खारिज कर दिया। कुछ छात्र जबरन इमारत में घुस गए और मतगणना स्थल पर पहुंच गए जिसके बाद हमें मतगणना प्रक्रिया रोकनी पड़ी।’’

    संबंधित पक्षों से गतिरोध दूर करने के लिये बातचीत की कोशिश की गई जिससे मतगणना प्रक्रिया शुरू की जा सके। समिति के सदस्यों ने कहा कि उसके सदस्यों (महिला सदस्यों को भी) धमकाया गया। एबीवीपी की जेएनयू इकाई के अध्यक्ष विजय कुमार ने कहा कि अगर उन्हें इंसाफ नहीं मिला तो वे दिल्ली उच्च न्यायालय जाने से भी नहीं हिचकेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘वोटों की गिनती नियमों का पालन किये बिना की जा रही है। निर्वाचन समिति ने चुनाव प्रक्रिया के लिये न्यूनतम जरूरतों का भी पालन नहीं किया।’’

    08:40 (IST)16 Sep 2018
    समिति ने रखा अपना पक्ष

    चुनाव समिति ने एक बयान जारी कर कहा कि उसने मतगणना एजेंटों के आने के लिये घोषणा की थी और नियमों का पालन किया गया। जेएनयू चुनाव समिति के मुताबिक, ‘‘14 सितंबर को रात 10 बजे शुरू हुई मतगणना प्रक्रिया को मतगणना स्थल पर जबरन प्रवेश और सीलबंद मत पेटियों एवं मतपत्रों को छीनने की कोशिश के बाद स्थगित कर दिया गया था।’’ इसमें कहा, ‘‘सोशल मीडिया और छात्रों के बीच एक दुर्भावनापूर्ण झूठ फैलाया जा रहा है कि निर्वाचन समिति ने तीन बार घोषणा नहीं की तथा सेंट्रल पैनल फॉर कंबाइंड स्कूल्स एंड स्पेशल सेंटर्स के मतगणना एजेंटों के प्रवेश के साथ ही गिनती शुरू कर दी।’’ समिति ने कहा कि उसने मतगणना शुरू होने के लिये तीन बार घोषणा की और लाउडस्पीकर के जरिये बाहर (मतगणना स्थल के) खड़े छात्रों को भी इसकी जानकारी दी। समिति ने कहा, ‘‘इसके बाद निर्वाचन समिति के सदस्यों ने सुरक्षार्किमयों को इसके बारे में सूचना दी और उनसे अगर कोई मतगणना एजेंट हो तो उसे इकट्ठा करने को कहा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘10 उम्मीदवारों के 14 मतगणना एजेंट मतगणना स्थल पर पहुंचे। इसके बाद मतगणना प्रक्रिया शुरू हुई। मतगणना एजेंटों की मौजूदगी में सील बक्सों को खोला गया।’’

    17:22 (IST)15 Sep 2018
    वामपंथी छात्र संगठनों और ABVP के बीच आरोप-प्रत्यारोप

    जेएनयू एबीवीपी के अध्यक्ष विजय कुमार ने कहा कि उनके मतगणना एजेंट को नहीं बुलाया गया और वामपंथी छात्र संघठनों के सदस्यों की मौजूदगी में मतगणना शुरू कर की गई।उन्होंने कहा, ‘‘ईसी का वामपंथियों के प्रति झुकाव है इसलिए हमने शांतिपूर्वक प्रदर्शन किया। हमने कोई हंगामा नहीं किया।’’

    16:01 (IST)15 Sep 2018
    JNU में रोकी गई मतगणना

    जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्रसंघ (जेएनयूएसयू) चुनावों के लिए मतगणना शनिवार को उस समय रोक दी गई, जब एक राजनीतिक दल के दो प्रमुख उम्मीदवार अपने समर्थकों के साथ मतगणना केंद्र में घुसे और बैलेट बॉक्स छीनने की कोशिश करने लगे। विश्वविद्यालय चुनाव समिति ने यह जानकारी दी।

    15:11 (IST)15 Sep 2018
    मतगणना शुक्रवार को शाम 5.30 बजे मतदान खत्म होने के बाद शुक्रवार रात 10 बजे शुरू हुई

    जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्रसंघ (जेएनयूएसयू) चुनावों के लिए मतगणना शनिवार को उस समय रोक दी गई, जब एक राजनीतिक दल के दो प्रमुख उम्मीदवार अपने समर्थकों के साथ मतगणना केंद्र में घुसे और बैलेट बॉक्स छीनने की कोशिश करने लगे। विश्वविद्यालय चुनाव समिति ने यह जानकारी दी।छात्रसंघ चुनाव के लिए मतगणना शुक्रवार को शाम 5.30 बजे मतदान खत्म होने के बाद शुक्रवार रात 10 बजे शुरू हुई थी।

    12:43 (IST)15 Sep 2018
    एनएसयूआई ने विकास यादव को अपना अध्यक्ष पद का उम्मीदवार बनाया है

    कांग्रेस समर्थित भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) ने विकास यादव को अपना अध्यक्ष उम्मीदवार बनाया है, जो इनर एशियन स्टडीज के विद्यार्थी हैं। यादव पिछले शुक्रवार अपनी उम्मीदवारी गंवाते-गंवाते बच गए, जब विश्वविद्यालय की शिकायत निवारण समिति उनके नामांकन को रद्द करने की सिफारिश की थी। निर्वाचन समिति ने हालांकि इस सिफारिश को खारिज कर दिया था। अध्यक्ष पद के एक अन्य उम्मीदवार लालू प्रसाद के राष्ट्रीय जनता दल राजद की छात्र शाखा के जयंत कुमार हैं।

    11:32 (IST)15 Sep 2018
    इस साल अध्यक्ष पद के लिए आठ उम्मीदवार मैदान में

    इस साल अध्यक्ष पद के लिए आठ उम्मीदवार मैदान में हैं। आइसा, एआईएसएफ, एसएफआई और डीएसएफ ने इस साल गठबंधन के तहत अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन के विद्यार्थी एन. साई बालाजी को अध्यक्ष पद के लिए अपना संयुक्त उम्मीदवार बनाया है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से संबद्ध विद्यार्थी शाखा, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) अध्यक्ष पद के लिए ललित पांडे को अपना उम्मीदवार बनाया है।

    10:02 (IST)15 Sep 2018
    चुनाव अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव और संयुक्त सचिव पदों के लिए

    चुनाव अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव और संयुक्त सचिव पदों के लिए हुए। मौजूदा समय में सभी चारों पदों पर क्रमश: वाम दल की गीता कुमारी, सिमोन जोया खान, दुग्गीराला श्रीकृष्णा और शुभांशु सिंह काबिज हैं।

    09:40 (IST)15 Sep 2018
    जेएनयू छात्रसंघ चुनाव में रिकॉर्ड 70 फीसदी मतदान

    जेएनयू छात्रसंघ चुनाव में शुक्रवार को लगभग 70 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। यह जेएनयू छात्रसंघ चुनाव में अबतक का सर्वाधिक मतदान प्रतिशत है। निर्वाचन समिति की तरफ से प्राप्त जानकारी के अनुसार, कुल 7,650 वोटों में से 5,185 वोट डाले गए। अनअधिकारिक सूत्रों के अनुसार, यह पहला मौका है जब इतनी बड़ी संख्या में छात्रसंघ चुनाव में मतदान किया है।

    Next Stories
    1 राहुल बोले- बिना पीएम मोदी की इजाजत के माल्या का लुकआउट नोटिस नहीं बदला होगा
    2 न्यायमूर्ति गोगोई होंगे देश के प्रधान न्यायाधीश
    3 यूपी: हिज्बुल मुजाहिदीन का आतंकी गिरफ्तार, गणेश चतुर्थी पर वारदात को देने वाला था अंजाम
    ये पढ़ा क्या?
    X