ताज़ा खबर
 

दिल्ली: चेन स्नैचर्स के साथ जमकर लड़ी 54 वर्षीय महिला, डीसीपी ने दिया बहादुरी पुरस्कार

बदमाशों को संतोष की बहादुरी का अंदाजा नहीं था इसलिए खुद पर संतोष को हावी होता देख दोनों अपनी मोटरसाइकल घटनास्थल पर ही छोड़कर फरार हो गए।

Author नई दिल्ली | June 9, 2017 12:32 PM
एमटीएनएल कर्मचारी संतोष दोपहर में कुछ सामान खरीदकर अपने झिलमिल स्थित घर की तरफ बढ़ रही थीं। (Photo Source: Twitter)

दिल्ली में दो चेन स्नैचर्स के मंसूबों को 54 वर्षीय एक महिला ने पस्त कर दिया जो कि पूरी तरह से स्वस्थ भी नहीं है। गुरुवार की दोपहर दो बदमाशों ने संतोष कुमारी नाम की महिला की चैन छीनने की कोशिश की लेकिन संतोष ने बहुत ही बहादुरी के साथ उन आरोपियों के साथ जमकर लड़ाई की। यह मामला पूर्वी दिल्ली के झिलमिल इलाके का है। शाहदरा डीसीपी नुपुर प्रसाद द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार एमटीएनएल कर्मचारी संतोष दोपहर में कुछ सामान खरीदकर अपने झिलमिल स्थित घर की तरफ बढ़ रही थीं। प्रसाद ने बताया कि रास्ते में मोटरसाइकल पर सवार दो बदमाशों ने उनकी चेन छीनने की कोशिश की, कि तभी संतोष ने चेन छीनने वाले आरोपी का एक हाथ पकड़ा और दूसरे हाथ से उसका कॉलर पकड़ लिया।

इसके बाद संतोष ने बदमाशों की मोटरसाइल पर एक लात मार दी, जिससे कि वे दोनों जमीन पर गिर गए। बदमाशों को संतोष की बहादुरी का अंदाजा नहीं था इसलिए खुद पर संतोष को हावी होता देख दोनों अपनी मोटरसाइकल घटनास्थल पर ही छोड़कर फरार हो गए। प्रसाद ने बताया कि यह सब हो जाने के बाद पुलिस को इस मामले की जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि इस मामले की जांच करने के बाद यह बात सामने आई कि जिस मोटरसाइकल पर बदमाश आए थे वह उन्होंने जगतपुरी इलाके से चोरी की थी।

पुलिस ने इस मामले में दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। इसी के साथ पुलिस संतोष के द्वारा बदमाशों का स्कैच तैयार करवा रही है जिससे कि आरोपियों की पहचान हो सके क्योंकि जिस जगह यह वारदात हुई वहां पर कोई भी सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा था, इसलिए आरोपियों की पहचान नहीं हो पाई है। संतोष की इस बहादुरी के लिए डीसीपी प्रसाद ने उन्हें एक प्रशंसा पत्र दिया और साथ ही एक हजार रुपए का इनाम भी दिया। डीसीपी नुपुर ने अपने ट्विटर हैंडर पर संतोष को पुरस्कार देते हुए एक फोटो भी शेयर की है।

देखिए वीडियो 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App